नई खोज : अंधेरे में भी चमकता है यह मेंढक

Amanpreet Kaur

Publish: Mar, 16 2017 11:35:00 (IST)

Dunia Ajab Gajab
नई खोज : अंधेरे में भी चमकता है यह मेंढक

समुद्र में पाए जाने वाले कई जीवों में यह गुण पाया जाता है

नई दिल्ली। पिछले दिनों करीब नाखुन की साइज के मेंढक की खोज के बाद अब वैज्ञानिकों ने मेंढकों की ऐसी प्रजाती खोज निकाली है, जिसे अंधेरे में चमकते हुए देखा जा सकता है। अंधेरे में चमकने वाले इन मेंढकों को दक्षिणी अमरीका के अर्जेंटीना में खोजा गया है। इन मेंढकों पर हरे, पीले और लाल रंग के छींटे नजर आते हैं।

सामान्य रोशनी में तो मेंढक के ये रंग पोल्का डॉट्स की तरह नजर आते हैं, लेकिन अंधेरे में ये गहरे नीले और हरे रंग की रोशनी में चमकते हैं। यह मेंढक ज्यादातर पेड़ों पर रहते हैं और जब शोधकर्ताओं ने पराबैंगनी किरणों से युक्त एक फ्लैशलाइट से इस मेंढक पर रोशनी फेंकी, तो लाल की जगह उनके अंदर से गहरे और नीले रंग का प्रकाश परावर्तित होने लगा।

शॉर्ट तरंगदैध्र्य पर प्रकाश को अवशोषित करने और लंबे तरंगदैध्र्य पर उसे परावर्तित करने की यह प्रक्रिया पदार्थों में तो आम है, लेकिन जीवों में यह दुर्लभ मानी जाती है। शोधकार्ताओं ने पाया कि दक्षिणी अमरीका के ये पोल्का डॉट वाले मेंढक बाकी किसी भी जानवर की तुलना में बिल्कुल अलग तरीके से परावर्तन प्रक्रिया को यूज करते हैं।

हालांकि समुद्र में पाए जाने वाले कई जीवों में यह गुण पाया जाता है। कोरल्स, मछलियां, शार्क और यहां तक कि कछुए की एक प्रजाति में भी यह गुण पाया जाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned