यह महिला केवल सूंघकर ही यह बता सकती है कि किसी व्यक्ति को कैंसर है या नहीं

Amanpreet Kaur

Publish: Mar, 19 2017 02:12:00 (IST)

Dunia Ajab Gajab
यह महिला केवल सूंघकर ही यह बता सकती है कि किसी व्यक्ति को कैंसर है या नहीं

एक महिला ऐसी है जो केवल सूंघकर ही यह बता सकती है कि किसी व्यक्ति को कैंसर है या नहीं

लंदन। कैंसर जानलेवा बीमारी है और ज्यादातर केसेज में यह बीमारी जब अंतिम स्टेज पर पहुंच जाती है, तब ही पकड़ में आती है। इसके लिए भी कई जांचें की जाती हैं। हालांकि एक महिला ऐसी है जो केवल सूंघकर ही यह बता सकती है कि किसी व्यक्ति को कैंसर है या नहीं।

मैलोन नाम की यह महिला सेंट का विशाल कारोबार संभालती है और करोड़पति बिजनेसवुमन है। सेंट के इस काम के लिए महक की अच्छी जानकारी होना अनिवार्य है। ऐसे में मैलोन के पास गजब की नाक है, यानी कि उसकी सूंघने की क्षमता लाजवाब है। इसके चलते वे इस बिजनेस पर अपना दबदबा बनाए हुए हैं।

मैलोन अपनी इस सूंघने की ही शक्ति से यह भी बता सकती है कि किसी व्यक्ति को कैंसर है या नहीं। वह खुद भी साल 2003 से ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही हैं। इसके बावजूद वह किसी के भी शरीर में होने वाले रासायनिक परिवर्तन का पता करके बता सकती हैं, कि उसे कैंसर है या नहीं।

मैलोन के इस अविश्वसनीय शक्ति का पता करने के लिए मिल्टन केन्स में मेडिकल डिटेक्शन डॉग सेंटर में परीक्षण के बाद उन्हें अपनी इस काबिलियत के बारे में पता चला। वह तेल में मिले अमील एसीटेट की पहचान तक कर सकती हैं, जबकि वह दस लाख में एक हिस्से के बाराबर मात्रा में मिला हुआ था। अधिकांश इंसान इसे तब भी नहीं पहचान पाते जब यह तेल में 1000 भाग में मौजूद हो।

मैलोन सिनास्टेसिया से ग्रस्त हैं। यह एक न्यूरोलॉजिकल स्थिति है, जिसमें इंद्रियां ओवरलैप होती हैं। यानी कि वह ध्वनि और रंग की व्याख्या गंध की तरह करती हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned