10 करोड़ का आसामी निकले एडिशनल डायरेक्टर एमएल पांडेय

Satya Narayan Shukla

Publish: Feb, 16 2017 09:58:00 (IST)

Durg, Chhattisgarh, India
10 करोड़ का आसामी निकले एडिशनल डायरेक्टर एमएल पांडेय

पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग के संयुक्त संचालक आय से अधिक संपत्ति की मामले में घिर गए हैं। करोड़ों की संपत्ति मिलने से लोग हैरान हैं।

दुर्ग. पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग के संयुक्त संचालक एमएल पांडेय आय से अधिक संपत्ति की मामले में घिर गए हैं। उनके पास करोड़ों की संपत्ति मिलने की जानकारी से लोग हैरान हैं। क्योंकि समाज कल्याण विभाग दुर्ग में वे लंबे समय उप संचालक रहे हैं। जिला पंचायत के सीईओ का प्रभार भी संभालते रहे थे।

बहुमंजिला आवास को स्कूल को किराया पर दिया

एसीबी की टीम ने गुरुवार को रायपुर के आलाव पांडेय के न्यू आदर्श नगर दुर्ग स्थिति आवास में दबिश दी। आवास (गुरु छाया) खाली होने के कारण एसीबी के अधिकारी कुछ देर रूक कर लौट गए। वे कुछ देर रूक कर आवास की कीमत का आंकलन कर रहे थे। पांडेय ने अपने इस बहुमंजिला आवास को एक प्ले स्कूल को किराया पर दिया है। इस मकान से उसे प्रतिमाह 60 हजार रुपए की आमदनी होती है। यह मकान उनकी पत्नी के नाम पर बाताय गया है।

सरल स्वाभाव के लोकप्रिय अधिकारी में गिनती
एमएल पांडेय लंबे समय तक यहां पदस्थ रहे। उनके कार्यकाल के दौरान कभी कोई गंभीर शिकायत नहीं रही। सत्ता पक्ष के साथ विपक्षी राजनीतिक दलों ने भी उन पर उंगली नहीं उठाई थी। पंचायत सचिव से लेकर पंचायत के जनप्रतिनिधियों के बीच वे लोकप्रिय रहे। उनकी गिनती अच्छे अधिकारी के रूप में होती थी। अब उनके पास करोड़ों की दौलत का खुलासा होने पर सब हैरान हो रहे हैं।

10 करोड़ से अधिक की है संपत्ति का खुलासा

रायपुर के अग्रोहा कालोनी में पत्नी के नाम 4800 वर्गफीट पर आलीशान मकान। इसी कॉलोनी में दो प्लाट पुत्र के नाम पर।
एक प्लाट पत्नी के नाम पर। कोटा में 10 हजार वर्गफीट में बहुमंजिला मकान। पाटन में 23 एकड़ जमीन। पुणे व मुबंई में बड़ी राशि निवेश, न्यू आदर्श नगर में पत्नी के नाम आलीशान मकान।विभिन्न बैंकों में दस से भी अधिक खाता। जिसमें एक करोड़ जमा। नकद मिला 2.94 लाख रुपए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned