रुपए लौटाने के बाद भी ढोंगी बाबा सलीम को नहीं मिली जमानत

Durg, Chhattisgarh, India
रुपए लौटाने के बाद भी ढोंगी बाबा सलीम को नहीं मिली जमानत
दुर्ग. तंत्र मंत्र और चमत्कारी औषधि के नाम पर ठगी करने वाले मेरठ उत्तरप्रदेश के मोहम्मद राजिद उर्फ बाबा सलीम खान 33 साल का जमानत आवेदन न्यायालय ने खारिज कर दिया। आरोपी ने न्यायालय में एक शपथ पत्र प्रस्तुत किया। जिसमें प्रार्थी को रुपए वापस कर दिए जाने का उल्लेख था। इसके बाद भी आरोपी को जमानत का लाभनहीं मिला। सुपेला पुलिस ने एक अन्य मामले की जांच करने के लिए पुलिस रिमांड लिया है।

जेल में निरुद्ध आरोपी बाबा सलीम

न्यायाधीश आनंद प्रकाश दीक्षित ने जेल में निरुद्ध आरोपी बाबा सलीम को सशर्त सुपेला पुलिस को रिमांड में दिया है। न्यायाधीश ने पुलिस को निर्देश दिया है कि वे आरोपी को शुक्रवार को दोपहर 12 बजे न्यायालय में पेश करेंगे। साथ ही आरोपी के साथ किसी तरह की मारपीट नहीं करेगें। अभिरक्षा में लेने से पहले और बाद में स्वास्थ्य परीक्षण कराना आवश्यक हैं। सुपेला पुलिस ने न्यायालय में उपस्थित होकर जानकारी दी कि आरोपी के खिलाफ सुपेला थाना में अपराध दर्ज है।

लौटाया रुपए

बचाव पक्ष के अधिवक्ता नीरज चौबे ने बताया कि दीपक गीते से लिए रुपए एक लाख 57 हजार 500 रुपए को बाबा सलीम ने लौटा दिया है। दीपक ने रुपए लेने के बाद शपथ पत्र में हस्ताक्षर भी किया है। इस शपथ पत्र को अधिवक्ता ने न्यायालय में प्रस्तुत किया है। पीडि़त दीपक गीते ने पुलिस को बताया था कि उसके पिता गोविंद गीते लकवाग्रस्त है। चमत्कारी बाबा का नाम सुनकर वह फोन पर संपर्क किया था। बाबा ने तंत्रमंत्र के प्रभाव से उसके पिता को पूर्णठीक करने का दावा किया और बाबा ने तीन किश्तों में कुल 157500 रुपए दे एकाउंट में जमा कराया था। बाद में बाबा ने बातचीत करना बंद दिया।

इस मामले में होगी पूछताछ

अटल आवास नेहरु नगर निवासी मुन्ना वर्मा की पत्नी कैंसर पीडि़त है। मुन्ना वर्मा ने टीवी पर चमत्कारी बाबा सलीम खान का विज्ञापन देख उससे संपर्ककिया था। बाबा ने मुन्ना को आश्वास्त किया था कि उसकी पत्नी को वह ठीक कर देगा। बाबा के झासे में आने के बाद मुन्ना जमा पूंजी 54000 रुपए बाबा के एकाउंट में जमा करा दिया था, लेकि न उसकी पत्नी का स्थिति सुधरने के बजाय बिगड़ते गई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned