#CG10thresults: कारपेंटर पिता और सब्जी बेचने वाली मां का बेटा टॉप 10 में

Durg, Chhattisgarh, India
 #CG10thresults: कारपेंटर पिता और सब्जी बेचने वाली मां का बेटा टॉप 10 में

तितुरडीह स्थित शासकीय उ.मा शाला में दसवीं के छात्र लक्की ने अपने साथ-साथ स्कूल का नाम भी रोशन किया। यह पहला मौका है जब श्रमिक क्षेत्र स्कूल के छात्र ने प्रावीण्य सूची में जगह बनाई।

भिलाई. पिता डेरहा देवांगन कारपेंटर का काम करते हैं। मां कल्याणी भिलाई की सड़कों पर घूम-घूम कर सब्जी बेचती  है। सुबह पौ फटने से पहले लक्की अखबार बांटने निकल जाता है। लक्की देवांगन की यह दिनचर्या रोज की है, लेकिन शुक्रवार की सुबह उसके लिएकुछ खास बन गई जब दसवीं की प्रावीण्य सूची में उसका नाम पांचवे स्थान में शामिल हुआ। सुबह से फोन पर ना जाने कितने लोगों का फोन आया। लक्की खुश है कि उसने अपनी मंजिल की पहली सीढ़ी पार कर ली।

श्रमिक क्षेत्र तितुरडीह स्कूल का
छात्र प्रावीण्य सूची में
मुफलिसी में भी अपने लक्ष्य को पाकर लक्की वास्तव में आज ' लक्की  हुआ। तितुरडीह स्थित शासकीय उ.मा शाला में दसवीं के छात्र लक्की ने अपने साथ-साथ स्कूल का नाम भी रोशन किया। यह पहला मौका है जब श्रमिक क्षेत्र तितुरडीह स्कूल के किसी छात्र ने बच्चा प्रावीण्य सूची में जगह बनाई। स्कूल में भी खुशी का माहौल है।

परफार्मेस 9 वीं से अच्छा

प्राचार्य मंगला बताती हैं कि लक्की का परफार्मेस 9 वीं से अच्छा था। इसलिए दसवीं में सभी सब्जेक्ट टीचर ने उस पर विशेषध्यान दिया। उसकी कमियों को बताया और परीक्षा के लिए तैयार किया।

मेहनत का विकल्प नहीं

लक्की ने सेल्फ स्टडी और स्कूल के शिक्षकों की मदद से यह मुकाम हासिल किया। पढ़ाईसंबंधी कोईभी परेशानी हो वह अपने शिक्षकों के पास जाता और उसका समाधान ढूंढलाता। लक्की ने बताया कि सुबह अखबार बांटने के बाद जो समय बचता उसमें वह पढ़ाई करता था। स्कूल से आने के बादभी ज्यादातर समय वह किताबों को ही देता।

मॉडल टेस्ट से दूर की कमजोरी

लक्की ने बताया कि स्कूल में मॉडल टेस्ट और टेस्ट सीरिज हुई।उस दौरान उसे साइंस में कम नंबर मिले।उसने अपनी विकनेस को दूर किया। लक्की को गणित में 99, विज्ञान में 97, हिन्दी में 93, अंग्रेजी में 98 , संस्कृत में 99 और सामाजिक विज्ञान में 96  अंक मिले।

इंजीनियर बनूंगा तो मां सब्जी बेचने नहीं जाएगी

लक्की की इच्छा है कि वह कंप्यूटर इंजीनियर बने और जब वह इंजीनियर बनेगा तो सबसे पहले अपनी मां का सब्जी बेचने का काम छुड़वाएगा। वह अपने छोटे भाई तुलाराम और बहन मधु को भी खूब पढ़ाना चाहता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned