बहुचर्चित गैंग रेप का प्रकरण अब विशेष न्यायालय में चलेगा, और धाराएं जुड़ी

Satya Narayan Shukla

Publish: Oct, 19 2016 06:28:00 (IST)

Durg, Chhattisgarh, India
बहुचर्चित गैंग रेप का प्रकरण अब विशेष न्यायालय में चलेगा, और धाराएं जुड़ी

दोस्तों के साथ दुष्कर्म करने और बाद में युवती को निजी कंपनी के डीजीएम को परोसने के  मामले में सुनवाई अब जिला न्यायालय के विशेष कोर्ट में होगी।

दुर्ग. हेल्थ प्रोडक्ट के  लिए क्लाइंट दिलाने के नाम पर पहले दोस्तों के साथ दुष्कर्म करने और बाद में युवती को निजी कंपनी के डीजीएम को परोसने के  मामले में सुनवाई अब जिला न्यायालय के विशेष कोर्ट में होगी। सुपेला पुलिस ने एफआईआर में अतरिक्त धारा जोड़कर विशेष न्यायाधीश राजेश श्रीवास्तव के न्यायालय में प्रस्तुत किया। पुलिस ने इस न्यायालय से जेल में निरुद्ध आरोपियों को दो दिनों के लिए न्यायिक अभिरक्षा लिया।

पुलिस को अनुसचित जाति का प्रमाण सौंपा
पीडि़त युवती ने सुपेला पुलिस को अनुसचित जाति होने का प्रमाण पत्र सौंपा है। प्रमाण पत्र के आधार पर ही सुपेला पुलिस ने जांच को आंगे बढ़ाते हुए सामूहिक दुष्कर्म के प्रकरण में अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनिम की धाराओं को जोड़ा है। इस आशय की जानकारी पुलिस ने बुधवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट आनंद प्रकाश दीक्षित को दी। इसके बाद सीजेएम ने प्रकरण को विशेष न्यायालय में स्तानंतरित कर दिया। सुपेला पुलिस के आवेदन को स्वीकार करते हुए न्यायाधीश ने दो दिनों का न्यायायिक रिमांड स्वीकृत किया है। प्रकरण की सुनवाई अब 21 अक्टूबर को होगा।

जेल में रहे आरोपी

गैंग रेप के आरोपी शांति नगर भिलाईतीन निवासी लाल बहादुर वर्मा 38 साल, सिरसाकला निवासी कमलेश चंद्राकर 43 साल, शांति नगर सुपेला निवासी गिरीश खापर्डे 37 साल व नेहरु नगर निवासी अजीत सिंह 40 साल व दुर्गापुर पंश्चिम बंगाल निवासी दुलाल चटर्जी वर्तमान में सेट्रल जेल दुर्ग में निरुद्ध है। सीजेएम ने आरोपियों का रिमांड 19 अक्टूबर तक के लिए स्वीकृत किया था। बुधवार को सभी आरोपियों को न्यायालय में प्रस्तुत करना था, लेकिन जेल के अधिकारियों ने बल का अभाव बताते ही केवल वांरट भेजा था।

यह है मामला

गैंग रेप की शिकार युवती अपनी पैरों पर खड़ा होना चाहती थी। उसने हेल्थ प्रोडक्ट का काम शुरु किया था। उसने अपने साथ एक सहेली को भी जोड़ रखा था। इसी बीच उसकी पहचान रायपुर जाते समय सिटी बस में एलबी वर्मासे हुई। वर्माने उसे पहले अपने जाल में फसाया। इसके बाद वह युवती को अपने मित्र दुलाल वर्मा को परोस दिया। इसके बाद युवती को बारी बारी से आरोपियों ने युवती से दुष्कर्म किया। स्थिति ऐसी थी कि एक दिन युवती के साथ एक के बाद एक ऑफिस में ही दुष्कर्म को अंजाम दिया और दो दिन बाद ही युवती को कोलकाता के एक कंपनी के डीजीएम दुलाल चटर्जी को परोस दिया। घटना के बाद युवती ने घटनाक्रम अपनी सहेली को बताई। इसके बाद मामला सुपेला थाना पहुंचा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned