मुस्लिम देशों के खिलाफ ट्रंप की नीतियों पर फ्रांस ने जताई चिंता

Europe
मुस्लिम देशों के खिलाफ ट्रंप की नीतियों पर फ्रांस ने जताई चिंता

मिस्र से अमरीका जा रहे इराक के पांच और यमन के एक नागरिक को हवाई अड्डे पर रोक दिया गया।

पेरिस। फ्रांस ने कहा है कि कुछ मुस्लिम बाहुल्य देशों के शरणार्थियों और अप्रवासियों की संख्या सीमित करने के संबंध में अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का फैसला बेहद चिंताजनक है। फ्रांस के विदेश मंत्री जीन मार्क आयरॉल्ट ने जर्मनी की अपनी समकक्ष मंत्री सिगमर गाबरिएल के साथ यहां संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में शनिवार को कहा, 'यह हम सभी के लिए चिंता की बात है। इससे हमारी चिंताएं ही बढ़ेगी। युद्धग्रस्त देशों, दमन एवं अत्याचार से जान बचाकर भागने वाले लोगों को अपने देश में जगह देना हम सभी का कर्तव्य एवं दायित्व है।' 

अमरीका आनेवालों की कड़ाई से होगी जांच
उल्लेखनीय है कि कि डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ मुस्लिम बहुल देशों से यहां आने वाले शरणार्थियों और अप्रवासियों की संख्या सीमित करने संबंधी एक कार्यकारी आदेश पर शुक्रवार को हस्ताक्षर किए। इस आदेश के तहत अमरीका आने वाले अप्रवासियों की संख्या सीमित की जाएगी और उनकी कड़ाई से जांच की जाएगी। अमरीकी रक्षा विभाग पेंटागन में जनरल जेम्स मैटिस को रक्षा मंत्री बनाए जाने के शपथ समारोह के बाद ट्रंप ने इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा कि वह चाहते है कि सीरियाई ईसाइयों को प्राथमिकता दी जाये। 

मानवाधिकार संगठनों ने की निंदा
इस बीच मानवाधिकार संगठनों ने इस आदेश की निंदा करते हुए इसे घातक और भेदभावपूर्ण बताया है। चुनाव प्रचार के दौरान से ही यह साफ हो गया था कि ट्रंप के सत्ता में आने पर मुस्लिम देशों से आ रहे लोगों के प्रवेश को लेकर कड़ा कदम उठाएंगे। उन्होंने मुस्लिम देशों से आ रहे शरणार्थियों के प्रवेश पर पाबंदी के आदेश पर हस्ताक्षर के बाद कहा कि अमरीका मुस्लिमों को नहीं बल्कि आतंकवादियों को अपने यहां नहीं आने देना चाहता है। ट्रंप ने कहा, 'हम इस बात को सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ऐसे लोग हमारे देश के अंदर नहीं आएं जिनके खिलाफ हमारे सैनिक देश से बाहर लड़ रहे हैं।'

पांच इराकी नागरिकों को अमरीका जाने से रोका गया
मिस्र से अमरीका जा रहे इराक के पांच और यमन के एक नागरिक को शनिवार को हवाई अड्डे पर रोक दिया गया। हवाई अड्डा अधिकारियों ने बताया कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों के अमरीका प्रवेश पर प्रतिबंध लगाए जाने के मद्देनजर पांच इराकी और एक यमनी नागरिक को हवाई अड्डे पर उस समय रोक लिया, जब वे मिस्र एयरलाइंस के विमान में अमेरिका जाने के लिये वहां पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि इन यात्रियों को वैध वीजा रखने के बावजूद उनके देश रवाना कर दिया गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned