ब्रिटेन में अमरीका के नए राष्ट्रपति ट्रंप विरोधी विशाल रैली

Europe
ब्रिटेन में अमरीका के नए राष्ट्रपति ट्रंप विरोधी विशाल रैली

ट्रंप की छवि उनपर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। ट्रंप के सत्ता संभालने के पहले ही दिन अमरीका के सबसे पुराने और निकटतम सहयोगी देश ब्रिटेन में उनके खिलाफ बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हुए। प्रदर्शनकारियों ने 'पुल बनाओ, दीवार नहीं', 'हम एक रहेंगे, नहीं बटेंगे' जैसे नारे लगाए। 

लंदन. अमरीका के नए राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप कार्यभार संभालने के बाद देशवासियों का दिल जीतने के लिए अमरीका फस्र्ट और आतंकवाद को मिटाने का नारा दिया। लेकिन उनकी महिला विरोधी छवि उनपर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। ट्रंप के सत्ता संभालने के पहले ही दिन अमरीका के सबसे पुराने और निकटतम सहयोगी देश ब्रिटेन में उनके खिलाफ बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हुए। प्रदर्शनकारियों ने 'पुल बनाओ, दीवार नहीं', 'हम एक रहेंगे, नहीं बटेंगे' जैसे नारे लगाए। लंदन में मार्च आयोजित करने वालों का दावा है कि रैली में लगभग एक लाख लोगों ने हिस्सा लिया है, जिनमें स्त्री-पुरुष दोनों शामिल थे। हालांकि, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों की संख्या के बारे में कोई अनुमान या आंकड़ा जारी नहीं किया है। 

महिलाओं ने दिखाई शक्ति
इस प्रदर्शन में महिलाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया । प्रदर्शन के दौकान लंदन में ये महिलाएं वॉशिंगटन में ट्रंप के खिलाफ हुए 'वीमेंस मार्च ऑन वॉशिंगटन' के समर्थन में  ट्रैफल्गर स्क्वॉयर से अमरीकी दूतावास तक मार्च निकाला। बताया जाता है कि इस प्रदर्शन में लंदन के मेयर सादिक खान भी शामिल हुए, जबकि टीवी प्रजेंटर सेंडी टोक्सविग और लेबर सांसद वाय कूपर ने भीड़ को संबोधित किया। दरअसल, इन लोगों ने महिलाओं के अधिकारों को रेखांकित करने के लिए इस प्रदर्शन का आयोजन किया। इनका मानना है कि डोनल्ड ट्रंप के अमरीकी राष्ट्रपति बनने के बाद महिला स्वाभिमान और उनकी सुरक्षा खतरे में हैं।

अगले सप्ताह ट्रंप से मिलेंगी थेरेसा 
ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे अमरीका के नए राष्ट्रपति ट्रंप से मिलने वाली पहली विदेशी नेता हो सकती हैं। दोनों नेताओं के अगले सप्ताह वॉशिंगटन में मिलले की संभावना है। दरअसल, थेरेसा दो दिन की यात्रा पर वॉशिंगटन जा रही हैं । इस दौरान गुरुवार को अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप से उनके ओवल कार्यालय में थेरेसा के मुलाकात करने की संभावना है। समाचार पत्र 'द डेली टेलीग्राफÓ ने सरकारी सूत्रों के हवाले से ये खबर दी है। गौरतलब है थेरेसा का यह दौरा तय कार्यक्रम से पहले होने जा रहा है। बताया जा रहा है कि ट्रंप के मुख्य रणनीतिकार स्टीव बैनन ने यात्रा पहले करने का अनुरोध किया है । खबरों में यह भी बताया गया है कि शुक्रवार को ट्रंप के शपथ लेने से 48 घंटे के पहले ही थेरेसा मे के इस कार्यक्रम को गोपनीय ढंग से तैयार किया गया था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned