फैजाबाद पुलिस ने पकड़ा हाइवे पर लूट करने वाला गिरोह 

Faizabad, Uttar Pradesh, India
 फैजाबाद पुलिस ने पकड़ा हाइवे पर लूट करने वाला गिरोह 

फैजाबाद पुलिस लाइन सभागार में पत्रकारों से बात करते हुए एसएसपी अनंत देव ने बताया की पकडे गए लुटेरे पेशेवर अपराधी हैं मुखबिर की सूचना पर मंगलवार की दोपहर इंडस्ट्रीयल एरिया में स्थित एक ब्रेकरी के पास से पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया

फैजाबाद | जिले की पुलिस ने बीते कई दिनों से हाइवे और सुनसान रास्तों पर हो रही आपराधिक वारदातों से परेशान पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है पुलिस ने इन वारदातों में शामिल लुटेरों के गैंग को गिरफ्तार करते हुए इनके कब्जे से पुलिस ने लूट के 60 हजार रुपए, एक तमंचा, दो कारतूस, दो बाइक व चार मोबाइल भी बरामद कर लिया है।स्कूटी से घर जा रहे शहर के गांधी नगर निवासी विनोद कुमार गुप्त से बदमाशों ने कैंट थाना क्षेत्र के सहादतगंज स्थित एक ओवर ब्रिज के पास 25 जुलाई को तमंचा दिखाकर 30 हजार रुपए लूट लिया था। इस वारदात के तीन माह बाद छह नवम्बर को भी बदमाशों ने श्री गुप्त की स्कूटी व मोबाइल लूट कर भाग गए थे। दोनों ही मामले में पुलिस केस दर्ज कर छानबीन कर रही थी। जिसके बाद इस वारदात में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है |
Faizabad Ke Lutere

पेशेवर अपराधी हैं पकडे गए लुटेरे 

फैजाबाद पुलिस लाइन सभागार में पत्रकारों से बात करते हुए एसएसपी अनंत देव ने बताया की पकडे गए लुटेरे पेशेवर अपराधी हैं मुखबिर की सूचना पर मंगलवार की दोपहर इंडस्ट्रीयल एरिया में स्थित एक ब्रेकरी के पास से पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी श्री देव ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्तों में इनायतनगर थाना क्षेत्र के डीहपूरे बीरबल निवासी साई उर्फ अजरुन यादव, नगर कोतवाली के नहरबाग निवासी घनश्याम, महाराजगंज थाना क्षेत्र के पूराबाजार निवासी ईश्वरदीन उर्फ डाक्टर, कैंट थाना क्षेत्र के हाजी सिंहपुर निवासी अमरजीत निषाद और अयोध्या कोतवाली के दर्शननगर निवासी करन यादव शामिल है। वारदात में शामिल तीन अन्य कैंट थाना क्षेत्र के हाजी सिंह पुर निवासी राजेश निषाद, अयोध्या कोतवाली के दर्शननगर निवासी माइकल व शेरु फरार हैं। जिनकी तलाश की जा रही है। श्री देव ने बताया कि अभियुक्तों के पास से लूट की स्कूटी, तीन बाइक, लूट के 60 हजार रुपए और चार मोबाइल समेत साई के पास से एक तमंचा व दो कारतूस बरामद हुआ है।

Faizabad Police
पूछताछ में लुटेरों ने बताये कई अहम् राज 

पकड़े गए आरोपितों से पता चला है कि लूट करने वाले अभियुक्तों का एक संगठित गिरोह है। जिसका सरगना ईश्वरदीन उर्फ डाक्टर है। गैंग में शामिल राजेश की मुखबिरी पर ईश्वरदीन ने अपने साथी करन, माइकल व शेरू के साथ पैशन व सुपर स्पेलेंडर बाइक से 14 जुलाई को लूट की। दूसरी बार ईश्वरदीन व अमरजीत के मुखबिरी पर साई यादव ने अपने साथी घनश्याम के साथ मिलकर लूट की। एसएसपी ने अभियुक्तों को पकड़ने वाली टीम को पांच हजार रूपए नकद पुरस्कार देने की घोषणा की । 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned