योगी राज में सात दिन से बेटियों संग धूप में बैठी है पीड़िता, दबंगों ने किया ये हाल  

Fatehpur, Uttar Pradesh, India
 योगी राज में सात दिन से बेटियों संग धूप में बैठी है पीड़िता, दबंगों ने किया ये हाल  

लाचार परिवार को इंसाफ की दरकार है...

फतेहपुर. भ्रष्टाचार के सिस्टम से लाचार परिवार को इंसाफ की दरकार है। कई दिनों से अपनी छोटी-छोटी बेटियों व पति के साथ चिलचिलाती धूप में धरना पर बैठी महिला की कोई सुनने वाला नहीं है। उसको दबंगों की धमकियां तो मिल ही रहीं हैं, साथ भ्रष्ट अधिकारियों व कर्मचारियों की सांठ-गांठ से रिकवरी का नोटिस भी भेजा गया है। 







इस परिवार का कसूर केवल इतना है कि मकान विहीन होने के चलते उसे कॉलोनी आवंटित की गयी और जब बनने का समय आया तो दबंग प्रधान ने इससे कॉलोनी की मिली धनराशि लेकर स्वयं आधा-अधूरा निर्माण कराया। पीड़िता ने बीती 5 जून को इसकी जानकारी पुलिस को दी, लेकिन पुलिस ने मामलें में कोई दिलचस्पी नहीं दिखायी। मामला असोथर थाना क्षेत्र के करूइया का डेरा मजरे पुरबुजुर्ग का है।



पीड़ित  परिवार ने  मामले की शिकायत जिला अधिकारी मदन पाल आर्य से करते हुये न्याय की गुहार लगाई। डीएम से गुहार लगाने के बाद उसे न्याय तो नहीं मिल सका, दिन की कड़कडाती धूप में जब लोग घरों में दुबकने को मजबूर होते हैं। ऐसे में ननकी अपने पति राम प्रसाद व पांच छोटी-छोटी बेटियों के साथ न्याय के लिये नहर कालोनी परिसर में धरना पर बैठने को मजबूर हो गयी, लेकिन इससे भी सिस्टम में बैठे आला अधिकारियों की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ा।





बीती 14 जून से चिलचिलाती धूम में धरना पर बैठे गरीब परिवार के पास आज छठवें दिन भी कोई सुधि लेने नहीं पहुंच सका। आज जब धरना दे रहे परिवार के पास दोपहर में पहुंचा तो वह फफक कर रोने लगी। उसकी पांचों बेटियां पिता से लिपट कर जिस तरह से रो रहीं थीं, पीड़िता ने बीती 15 जून के बाद आज फिर सूबे के मुखिया समेत उच्चाधिकारियों को शिकायती पत्र भेज कर न्याय की गुहार लगायी है। 



उसका कहना था कि अगर उसे भ्रष्टाचारियों से न्याय नहीं दिलाया जाता और उसकी कॉलोनी का धन एवं सामान हड़पने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई नहीं की जाती तो वह परिवार समेत आत्मदाह करने को मजबूर होगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned