खबर का असर : नाला निर्माण के घोटाले में ईओ निलंबित

Firozabad, Uttar Pradesh, India
खबर का असर : नाला निर्माण के घोटाले में ईओ निलंबित

छोटे से नाले के निर्माण में 30 से अधिक ठेकेदारों को मिला था काम 

फिरोजाबाद।  टूंडला में नगर पालिका द्वारा बनवाए जा रहे 10 करोड़ के नाला निर्माण में शासन ने अधिशासी अधिकारी एके सिंह चौहान को निलंबित कर दिया है। ईओ पर कई मामलों में भ्रष्टाचार में लिप्त रहने के आरोप लगे थे। पत्रिका ने 31 मई 2017 को  'नाला निर्माण में करोड़ों रुपए का बंदरबाट' शीर्षक से खबर ब्रेक की थी उसके बाद एक के बाद कई खबरें प्रकाशित हुईं। डीएम की जांच में ईओ के विरूद्ध की गई शिकायत के आधार पर यह कार्रवाई की गई है।

900 मीटर के नाले को दिया था 33 ठेकेदारों को काम

नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी ने 900 मीटर लंबे नाले को बनवाने के लिए 33 ठेकेदारों को इसका टेंडर दिया था। इसमें कुछ ठेकेदार ऐसे थे। जिनका केवल नाम था, उन्होंने काम किए बिना ही पैसा निकाल लिया। इस काम को लेने के लिए ठेकेदारों से 40 प्रतिशत तक कमीशन एडवांस में लिया गया था। इसकी शिकायत भाजपा के नगर अध्यक्ष सतेन्द्र गुप्ता नेे डीएम से तहसील दिवस में की थी। 
नहर विभाग का था नाला

इस नाले को बनवाने का काम नहर विभाग का था लेकिन नहर विभाग से स्वीकृति लिए बिना ही नगर पालिका ने इसके टेंडर उठा दिए थे जिसपर काफी विरोध हुआ था। हालांकि बाद में ईओ ने सिंचाई विभाग से परमीशन ले ली थी। 

निर्माण को लेकर हुआ था हंगामा, मारपीट

नाला निर्माण की जांच करने पहुंचे सिंचाई विभाग के जेई के साथ नगर पालिका के कर्मचारियों द्वारा अभद्रता और मारपीट की गई थी। जिसकी शिकायत डीएम से हुई थी। मामले को लेकर डीएम ने ईओ को कडी फटकार लगाई थी।

जांच कमेटी को मिली कमियां

इस पूरे मामले को लेकर डीएम ने पांच सदस्यीय टीम गठित की थी। जांच टीम को नाला निर्माण में काफी कमिमां मिली थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर डीएम ने ईओ को ठेकेदारों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए थे।

ठेकेदारों के विरूद्ध कराया मुकदमा दर्ज

ईओ ने शिवा कंस्ट्रक्शन के शिवराज सिंह, कौशल किशोर, नव्या कंस्ट्रक्शन के ललिता निगम, भगवत स्वरूप कटियार, रोहित कटियार, शिवा एंड कंपनी के मनप्रीत सिंह कीर, सिंह ग्रुप के सूरज सिंह, भगवान देवी और सुमन गर्ग के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। 

डीएम ने शासन को भेजी रिपोर्ट

डीएम नेहा शर्मा ने नाला निर्माण की जांच रिपोर्ट शासन को भेज दी थी। डीएम की संस्तुति पर शासन ने ईओ एके सिंह चैहान को निलंबित कर दिया है। इस मामले में डीएम का कहना है कि ईओ के विरूद्ध शिकायत मिली थी। नाला निर्माण में अनियमितता पाई गई थी। जिसकी जांच रिपोर्ट शासन को सौंपी गई थी। उसी के आधार पर निलंबन की कार्रवाई की गई है।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned