ड्रॉ खेलकर चैंपियंस लीग से बाहर हुआ बार्सिलोना

Football
ड्रॉ खेलकर चैंपियंस लीग से बाहर हुआ बार्सिलोना

चैंपियंस लीग के क्वार्टर फाइनल के पहले चरण में जुवेंट्स से 3-0 से हार चुकी बासिंलोना दूसरे चरण में एक भी गोल करने में असफल रही।

कैंप नोऊ। चैंपियंस लीग के क्वार्टर फाइनल के पहले चरण में जुवेंट्स से 3-0 से हार चुकी बासिंलोना को दूसरे चरण में वैसे ही चमत्कार की उम्मीद थी, जैसा अंतिम-16 मुकाबले में पेरिस सेंट जर्मेन के खिलाफ मिली हार को दूसरे चरण में उसने चुकता कर लिया था। लेकिन चमत्कार रोज-रोज नहीं होते, यह कहावत बुधवार देर रात यहां कैंप नोऊ स्टेडियम में सही साबित हुई।

अपने घरेलू मैदान पर खेल रही बार्सिलोना की टीम जुवेंट्स के खिलाफ एक भी गोल करने में असफल रही और गोलरहित ड्रॉ खेलकर चैंपियंस लीग से बाहर हो गई। जुवेंट्स ने इसी के साथ बार्का से 2015 चैंपियंस लीग फाइनल में मिली हार का बदला चुकाया और 12वीं बार सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।

मेसी का जादू नहीं चला
बार्सिलोना को लियोनेल मेसी से अपने पैरों का जादू दिखाने की उम्मीद थी, जिन्होंने अंतिम-16 मुकाबले के भी दूसरे चरण में बार्का के लिए जीत का रास्ता खोला था। लेकिन यहां पर मेसी का जादू पूरी तरह फेल रहा और वह अपनी टीम के लिए एक भी गोल नहीं कर पाए। मेसी चार बार शानदार खेल दिखाकर गोल के करीब पहुंचे और जुवेंट्स की सेंटर बैक जोड़ी जियोर्जियो चिलीनी व लियोनार्डो बाउंसी को छकाने में सफल रहे। लेकिन हर बार उनका शॉट निशाने से दूर ही रहा।

दो बार के यूरोपियन चैंपियन जुवेंट्स के खेल में यहां वो बात नहीं दिखाई दी, जो उसने तूरिन में पहले चरण के मुकाबले में बार्सिलोना को 3-0 से रौंदते हुए दिखाई थी। हालांकि जुवेंट्स ने पेरिस सेंट जर्मेन के मुकाबले ज्यादा मजबूती दिखाई, जो बार्सिलोना के खिलाफ अपने दूसरे चरण के मुकाबले में पहले चरण की 4-0 की बढ़त का भी लाभ खोकर हार गया था।

बार्का कोच लुइस एनरिक ने मुकाबले से पहले कहा था कि यदि उनकी टीम शुरुआती दौर में ही गोल करने में सफल रही तो नोऊ कैंप के दर्शकों का शोर बाकी गोल अपनेआप ही दिला देगा। लेकिन उनकी टीम ऐसा करने में असफल रही।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned