बोधगया में होगी कालचक्र पूजा, भाग लेने पहुंचेंगे दलाई लामा

Indresh Gupta

Publish: Nov, 30 2016 11:55:00 (IST)

Gaya, Bihar, India
बोधगया में होगी कालचक्र पूजा, भाग लेने पहुंचेंगे दलाई लामा

स्थानीय व्यवसायी के साथ ही दूसरे इलाकों के व्यवसायी भी यहां अपने दुकान सजाना शुरू कर दिए हैं।

गया। बोधगया में 3 से 15 जनवरी 2017 तक विश्व प्रसिद्ध कालचक्र पूजा का आयोजन किया जा रहा है। इस पूजा में बौद्ध गुरू दलाई लामा के साथ ही तीन लाख से ज्यादा तीर्थयात्री और पर्यटक शामिल लेगें। पूजा की तैयारी बुद्धिष्ट के साथ ही जिला प्रशासन और व्यवसायी अपने-अपने स्तर से कर रहें हैं।

जानकारी के अनुसार, कालचक्र पूजा की तैयारी कई स्तरों पर की जा रही है जिसका निरीक्षण करने आये मगध प्रमंडल के
आयुक्त लियान कुंगा ने कहा कि जिला प्रशासन आवासन, सफाई, पेयजल एवं सुरक्षा के इंतजाम को लेकर व्यापक तैयारी कर रही है जिसमें पांच हजार जवान के साथ ही सीसीटीवी एवं अन्य आधुनिक उपकरणों का सहयोग लिया जाएगा।

महाबोधि मंदिर में आंतकी घटनाएं 2013 में ही हो चुकी हैं और दलाई लाम की सिक्यूरिटी भी उच्च स्तर की होती है जिसकी
तैयारी पहले से ही की जा रही है। पूजा में भाग लेने के लिए दलाई लामा 28 दिसबंर को ही बोधगया पहुंच जाएंगे। इस पूजा में तीन लाख से ज्यादा बुद्धिष्ट एवं अन्य धर्म के लोग के शामिल होने की संभावना है।

बौध धर्म को मानने वाले लेते हैं शिक्षा

बौद्ध भंते की मानें तो बुद्ध धर्म को मानने वाले लोगों की पहली इच्छा दलाई लाम से दीक्षा लेने की होती है जिसकी वजह से इतनी भीड़ होती है। इस पूजा के आयोजन के लिए व्यवसायी वर्ग भी तैयारी कर रहा है। स्थानीय व्यवसायी के साथ ही दूसरे
इलाकों के व्यवसायी भी यहां अपने दुकान सजाना शुरू कर दिए हैं।

बौद्धिष्ट के लिए कालचक्र पूजा में शामिल होना हिन्दू के महाकुंभ और मुस्लिम के हज पर जाने सरीखा होता है। इसमें भाग लेने के लिए हमारे विरोधी चीन के साथ ही करीब 40 देश के लाखों बौद्ध श्रद्धालु यहां आ रहें हैं। जिला प्रशासन का सहयोग लेकर आयोजन समिति कई महीने पहले से ही तैयारी में जुटी हुई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned