वीके सिंह ने विपक्षियों पर बोला हमला, कहा- जब जेएनयू में देश विरोधी नारे लगे तब किसी को गलत नहीं लगा

Noida, Uttar Pradesh, India
वीके सिंह ने विपक्षियों पर बोला हमला, कहा- जब जेएनयू में देश विरोधी नारे लगे तब किसी को गलत नहीं लगा

गाजियाबाद सांसद ने ममता और विरोधियों के हमले के बाद किया पलटवार

गाजियाबाद। ममता बनर्जी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा केन्द्र सरकार को नोटबंदी के मामले में घेरने पर अब केन्द्रीय विदेश मंत्री वीके सिंह ने पीएम मोदी का बचाव किया है। उन्होंंने फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि कुछ लोग इससे तिलमिला गए हैंं। हजार-पांच सौ रुपये के नोट बंद होना ब्लैक मनी के लिए रेस्ट इन पीस (RIP) जैसा है। भारत को बेहतर और स्वच्छ बनाने के लिए इस तरीके के कड़े फैसले लिए जाने की जरूरत है।

केन्द्रीय विदेश मंत्री जनरल वीके सिंह ने नोटबंदी के लिए सैंड आर्ट बनाते एक शख्स की फोटो जारी की है इसमें उन्होंंने पांच सौ और हजार रुपये के नोटों को श्रद्धांंजलि दी है, वहीं क्लीन इंडिया और दो हजार के नोट का समर्थन करते हुए दिखाया गया है। फोटो में एक इमेज की आंख बंद और दूसरे की आंखेंं खुली दिखाई गई हैंं।

कांग्रेस और विपक्षियों पर किया पलटवार

भारत बंद और सरकार के फैसले को गलत करार देने वाली कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टी पर केन्द्रीय मंत्री ने पलटवार करते हुए कहा कि कश्मीर में सैनिकों पर जब पत्थर बरस रहे थे। किसान रोटी के लिए तरस रहा था। आधी रात में न्यायालय को खोला गया और खतरों के लिए देवालयों को बंद कर दिया तो भारत बंद कराना चाहिए थे। कांग्रेस को लेकर कहना है कि सिखों के नरसंहार पर क्यों दर्द नहीं आया। जेएनयू में देश विरोधी नारे लगे तब किसी को गलत नहीं लगा।

फैसला वापस नहीं लेगी केन्द्र सरकार

स्थानीय सांसद रिटायर्ड जनरल वीके सिंह ने साफ कर दिया है कि वो कितना ही चीखपुकार मचा लेंं, या फिर बंद कर लेंं, केन्द्र सरकार किसी भी सूरत में अपने फैसले को वापस नहीं लेगी। देश के हित में कड़े कदम उठाना जरूरी है। सरकार की लडाई कालेधन के खिलाफ है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned