पति बनाता था अप्राकृतिक संबंध, पत्‍नी ने कराया केस दर्ज तो पंचायत में महिलाओं ने पीटा

Noida, Uttar Pradesh, India
पति बनाता था अप्राकृतिक संबंध, पत्‍नी ने कराया केस दर्ज तो पंचायत में महिलाओं ने पीटा

पंचायत ने कहा, इस्लाम पत्‍नी को पति के खिलाफ जाने की इजाजत नहीं देता, दिया शरीयत का हवाला

गाजियाबाद। जनपद के थाना मुरादनगर इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां महिला को अपने पति से तलाक मांगने पर भरी पंचायत में थप्‍पड़ मारा गया और जलील किया गया। हालांकि, मामला पिछले हफ्ते का है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पति के खिलाफ आवाज उठाने पर गांव में एक पंचायत बुलाई गई, जिसमें महिला की सास व अन्‍य लोगों ने उससे मारपीट की। महिला ने शारीरिक शोषण के खिलाफ आवाज उठाते हुए पति के खिलाफ केस दर्ज कराया था और उससे तलाक की मांग की थी।

शारीरिक शोषण और तीन तलाक की धमकी देने पर पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना और न्याय की आवाज उठाना पीड़ित महिला को भारी पड़ गया। काॅलोनी के लोगों ने पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना शरीयत के खिलाफ बताया है। उन्होंने शरिया कानून के उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए महिला को पीटकर कॉलोनी से बाहर निकालने का फरमान सुना दिया। पंचायत में महिला को पीटे जाने और तालिबानी फरमान के बारे में थाना प्रभारी रणबीर सिंह ने बताया कि घटना संदिग्ध लग रही है। फिर भी मामले की जांच की जा रही है। यदि जांच में यह सही पाया गया तो आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है क‍ि महिला ने इस मामले में तहरीर दे दी है।

बागपत जिले के एक गांव निवासी महिला की शादी 12 वर्ष पहले मुरादनगर निवासी युवक के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही पति उसके साथ अप्राकृतिक संबंध बनाता था और विरोध पर तीन तलाक की धमकी देता था। आरोपी ने कई बार महिला के संवेदनशील अंगों को बीड़ी से दाग दिया। पिछले दिनों अप्राकृतिक संबंध बनाने का विरोध करने पर आरोपी ने उसके प्राइवेट पाटर्स में मिर्च पाउडर डाल दिया था। इसके बाद महिला ने रिपोर्ट दर्ज करा दी। इस पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

महिला द्वारा उसके पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाकर उसे जेल भिजवाना ससुराल पक्ष को नागवार गुजरा और रविवार को एक पंचयात बुलवाई गई। पंचायत में पंचों ने तालिबानी फरमान सुनाते हुए पति के खिलाफ जाने पर शरीयत का उलंघन बताया और कहा कि इस्लाम पत्‍नी को पति के खिलाफ जाने की इजाजत नहीं देता है। जब महिला ने अपना दर्द बताते हुए अपने पति और सास पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कहा कह इससे परेशान होकर उसने यह कदम उठया था तो महिला की सास व अन्य महिलाओं ने उसको भरी पंचायत में ही पीट दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned