गाजियाबाद में मचानों पर चढ़े पुलिसवाले, जानिये क्‍यो

Noida, Uttar Pradesh, India
 गाजियाबाद में मचानों पर चढ़े पुलिसवाले, जानिये क्‍यो

इंदिरापुरम, वैशाली और वंसुधरा इलाके में भी बेरीकेटिंग के जरिए अंदर के रास्तों को किया बंद

गाजियाद. सावन मास की शिवरात्रि पर भगवान शिव शंकर को प्रसन्न करने के लिए दिल्ली और एनसीआर से से बढ़ी संख्या में कांवड़िये रवाना होना शुरू हो गए हैं। स्थानीय डाक कांवड़िये भी आज से रवाना होना शुरू हो गए हैं। उधर हरियाणा और राजस्थान के शिव भक्त वापस जल लेकर अपनी मंजिल की तरफ बढ़ना शुरू हो गए हैं। हाईवे-58 पर शिवभक्तों के दबाव को देखते हुए सारे ट्रैफिक को वन-वे कर दिया गया है। वहीं शहर के भीतरी हिस्सों में भी रूट डायवर्जन को लागू किया गया है।

ट्रांस हिंडन से कटा शहर

ट्रैफिक पुलिस की तरफ से इंदिरापुरम, वैशाली और वंसुधरा इलाके में भी बेरीकेटिंग के जरिए अंदर के रास्तों को बंद कर दिया गया है। उधर हिंडन के जरिए दिल्ली जाने वाले रास्ते पर शिवभक्तों के आगमन के चलते वहां पर भी बांस की बल्ली, पीसीआर, पीवीआर को खड़ा करके रास्तों को बंद कर दिया गया है। सिर्फ दो पहिया वाहनों को ही हिंडन के रास्ते पर जाने की अनुमति दी गई है।

Ghaziabad

वन-वे ट्रैफिक से हालत खराब

मोहनगर से हिंडन जीटी रोड के रास्ते शहर की तरफ आने वाले ट्रैफिक के वन वे होने के बाद में स्थिति खराब हो गई है। राजनगर एक्सटेंशन से मोहनगर तक पहुंचने में लोगों को दो घंटे से भी अधिक का समय लग रहा है।

यह भी पढ़ें- सहारनपुर में कांवड़ यात्रा के दौरान भोले के खिलाफ मुकदमा दर्ज

यहां बंद किए गए है रास्ते

ट्रैफिक पुलिस की तरफ से मुरादनगर जाने वाले लोगों को डासना की तरफ से भेजा जा रहा है। इसी तरीके से मेरठ रोड से लोहियानगर की तरफ आने वाले लोगों के लिए बेरीकेटिंग की हुई है। उधर वंसुधरा कट को बंद किया हुआ है।

Ghaziabad

ऑटो बंद होने से लोग परेशान

मेरठ रोड पर ऑटो और प्राईवेट बसों के बंद होने के बाद में नौकरीपेशा लोगों के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। आऱडीसी के एक बैंक में काम करने वाले अनुराम के मुताबिक वो लक्ष्मीनगर से रोजाना यहां आते हैं। आज दो घंटे से मोहन नगर से जाने के लिए कोई साधन नहीं मिला। मेरठ रोड तक पैदल आने में स्थिति खराब हो गई है।

यह भी पढ़ें-  40 कावड़ियों से भरा वाहन नहर में गिरा, एक की मौत, पांच गंभीर

ट्रैफिक इंस्पेक्टर का ये है कहना

ट्रैफिक इंस्पेक्टर रमेश तिवारी के मुनाबिक कांवड़ मार्ग पर इस बार पिछली साल के मुकाबले शिवभक्तों की खासी तादाद है। शिवभक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस तरीके के कदम उठाए गए है। 21 तक लोगों को थोड़ी असुविधा झेलनी पड़ेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned