सपा सरकार में हुए पांच सौ दंगे- सतीश चंद्र मिश्र

Abhishek Gupta

Publish: Feb, 16 2017 10:37:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
 सपा सरकार में हुए पांच सौ दंगे- सतीश चंद्र मिश्र

बीएसपी चुनावी जनसभा में विपक्षियों पर बरसे आरोपों के तीर.

गोण्डा. मनकापुर विधान सभा के चुनावी जंग में अहम भूमिका निभाने वाले मतदाताओं को अपनी उपलब्धियां बताते हुए कस्बा वजीरगंज में बीएसपी चुनावी जनसभा में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद राज्य सभा सतीश चंद्र मिश्रा ने विपक्षियों पर आरोपों के तीर बरसाते हुए कहा कि सपा सरकार में पांच सौ दंगे हुए जबकि बसपा सरकार में गुंडा व माफिया कांपते थे।

बसपा चुनावी जन सभा का संचालन तिलकराम भारती द्वारा किया गया जिसमें मुख्य अतिथि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा रहे जिन्होंने अपने सम्बोधन के दौरान सपा, भाजपा व कांग्रेस पर आरोपों के तीर बरसाते हुए कहा कि सबसे ज्यादा हत्या, लूट, बलात्कार व डकैती सपा सरकार में ही हुई है। जबकि बसपा सरकार में ये माफिया सलाखों के पीछे थे। इतना ही नहीं इस सरकार में पांच सौ दंगे हुए जबकि ये सैफई के महोत्सव में मशगूल रहे। और तो और सरकार ने इस महोत्सव व फिल्मी सितारों में न जाने कितने रुपयों को खर्च किया। उन्होंने यह भी कहा कि जो बलिया से आगरा तक एक्सप्रेस वे बनाया गया उसे बहन जी ने पहले ही तय कर रखा था।  

बजट के बारे में अवगत कराते हुए कहा कि बसपा सरकार में जो बजट 42 हजार करोड़ था वो सपा सरकार में 3 लाख हजार करोड़ हो गया। बावजूद इसके उत्तर प्रदेश विकास की किरणों से महरूम रहा। साइकल पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि साइकिल के टुकड़े टुकड़े हो गए। जिसका गद्दी भतीजे के हाथ लगी और बाकी चाचा के हाथ में रही। 

इसी के साथ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस खटिया बिछा कर प्रचार करते हुए सपा को गुंडों की सरकार कहती थी आज उसी से गठबंधन करके अपनी नैया खेने में लगी हुई है। भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए सतीश ने कहा कि भाजपा झूठ बोलने वाली सरकार है। नोट बंदी के दौरान जहाँ 150 लोगों की जाने गयीं वही गुजरात व महाराष्ट्र के उद्दोगपति काले धन को सफेद करने में लगे रहे। उन्होंने कहा कि 90 दिन के अंदर काले धन को वापस लाकर गरीबों के खाते में 15 से 20 लाख रुपये आने वाला दावा कहाँ गया। रूपये तो नहीं आये बल्कि गरीबों के ही 65 करोड़ रूपये खाता खोलने में जमा हो गए। और तो और विजय माल्या 12 हजार करोड़ व ललित मोदी करोड़ों रूपये लेकर चले गए जिस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। 

भाजपा पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि जब चुनाव आता है तब इन्हें राम मंदिर की याद आती है। और राम मंदिर का मुद्दा सर्वोच्च न्यायालय में है कह कर ये भगवान को जब धोखा देते हैं तो आम इंसानों का क्या हो पाएगा। उन्होंने लोगों से बसपा को जिताने की अपील करते हुए कहा कि अगर हमारी सरकार बनेगी तो हम गरीब किसानों को चिन्हित कर उसका कर्ज माफ करवाएंगे। इस दौरान लोगों के हजूम के साथ एलबीएस के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष विक्रम वीर शुक्ला, पप्पू परास,राम आशीष भारती, विजय चैहान, हवलदार पाण्डेय, रवि आर्य, मोहम्मद सोनू, वाहिद चैधरी आदि मौजूद रहे।

विज्ञापनों पर नजर गड़ाते हुए राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि सपा सरकार ने दो हजार करोड़ विज्ञापन में उड़ा दिए। अगर इन रुपयों को गरीबों में बाँट दिया जाता तो शायद किसी की जिंदगी संवर जाती।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned