सीबीएसई ने पिलर्स पब्लिक स्कूल की मान्यता रद्द की 

Gorakhpur, Uttar Pradesh, India
सीबीएसई ने पिलर्स पब्लिक स्कूल की मान्यता रद्द की 

अभिभावकों से करते थे सुविधा के नाम पर मोटी वसूली, सुविधा अधोमानक

गोरखपुर. सीबीएसई ने सख्ती दिखाते हुए अभिभावकों से सुविधा के नाम पर लूटने और सुविधा न देने वाले स्कूलों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। बोर्ड ने गोरखपुर शहर के मशहूर 'दी पिलर्स पब्लिक स्कूल' की मान्यता छीन ली है। नए सत्र में स्कूल हाई स्कूल व इंटरमीडिएट में एडमिशन नहीं ले सकेगा। सीबीएसई ने स्कूल को अस्थायी मान्यता दे रखी थी। हालांकि, क्लास 10th व 12th में पूर्व में पंजीकृत छात्रों को परीक्षा में बैठने की छूट दे दी गई है। 





इस विद्यालय के खिलाफ शिकायत की गई थी मानकों का कोई ख्याल नहीं रखा गया है। सुविधा के नाम पर कोरमपूर्ती की गई है। न खेल मैदान है न ही क्वालिफाइड शिक्षक। यही नहीं क्लास में शिक्षक-छात्र अनुपात का भी पालन नहीं किया गया है। सीबीएसई ने बीते दिनों शिकायतों की जांच कराई। जांच में आरोप सही साबित हुए। सीबीएसई द्वारा जारी जांच रिपोर्ट के अनुसार स्कूल में काफी वित्तीय अनियमितता भी सामने आई है। शिक्षकों का ईपीएफ भी जमा नहीं है। वित्तीय लेनदेन भी नियम से नहीं किये गए है। बहुत सारे डाक्यूमेंट्स भी फर्जी हैं। स्कूल में अस्थायी प्रिंसिपल काफी दिनों से है। क्लास में मानक के विपरीत छात्रों की संख्या है। सीबीएसई के अनुसार स्कूल को दिए गए कारण बताओ नोटिस में भी जवाब सही नहीं मिले। जवाब से बोर्ड संतुष्ट नहीं है और मान्यता आहरण की कार्रवाई की जाती है। 


आगे की खबर पढ़ने के लिए यहां CLICK करें


PATRIKA TV पर देखें खबरें 


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned