मालवीय प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय की वर्षगांठ पर नहीं आ सके राज्यपाल

Gorakhpur, Uttar Pradesh, India
मालवीय प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय की वर्षगांठ पर नहीं आ सके राज्यपाल

प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय की तीसरी सालगिरह धूमधाम से मनाई गई।

गोरखपुर. ज्ञानार्जन करते हुए निरंतर सीखते रहना विकास के लिए बेहद जरूरी है। ज्ञान प्राप्त करने की कोई सीमा नहीं है। कोई भी कभी पूर्ण नहीं होता है, यह सतत ज्ञानार्जन की प्रवृत्ति ही है कि जो हमें दिन-प्रतिदिन विकास के पथ पर अग्रसर करती रहती है। कालेज की जिंदगी हर किसी के जीवन की वह अवधि होती है, जो न केवल उसे अकादमिक रूप से समृद्ध करती है बल्कि इसी काल में व्यक्ति खुद को पहचान पाता है। हमारे गुरू हमारी कमियों- अच्छाइयों की पहचान कर हमें इस प्रकार तराशते हैं जिससे कि हम देश, समाज और राष्ट्र के विकास में अपनी सही भूमिका निर्वहन कर सकें।




मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के छात्र- छात्राओं को यह शिक्षा मिली अपने ही संस्थान के पुरातन छात्र इंजीनियर केएम सिंह से। वर्तमान में नेशनल हाइड्रो पॉवर कारपोरेशन के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक पद पर सेवारत इंजी. सिंह विश्वविद्यालय की स्थापना की तीसरी सालगिरह के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। लंबे अरसे बाद अपने शिक्षण संस्थान परिसर पहुंचे इंजी. सिंह ने अनुज छात्रों के साथ अपनी स्मृतियों को साझा किया साथ ही भावी इंजीनियरों को आने वाली जिंदगी में संभावित चुनौतियों से पार पाने के लिए हमेशा तैयार रहने का मंत्र भी दिया।




मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय ने गुरुवार को अपनी स्थापना की तीसरी सालगिरह धूमधाम से मनाई। स्थापना दिवस के अवसर पर विश्वविद्यालय की ओर से एक ओर जहां सत्र 2015-16 के बीटेक और एमसीए अंतिम वर्ष में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले मेधावियों को स्वर्ण पदक से नवाजा गया वहीं अतिथियों ने छात्र-छात्राओं को जीवन की भावी चुनौतियों से पार पाने के लिए हर संघर्ष को तत्पर रहने की सीख भी दी। हर्ष और उल्लास से परिपूर्ण इस विशेष समारोह में छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, कर्मचारियों सहित शहर के गणमान्य जन की भी मौजूदगी भी रही। कुलपति प्रो. ओंकार सिंह ने विश्वविद्यालय का प्रगति विवरण साझा करते हुए भावी योजनाओं पर अपनी राय रखी। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि इंजी. केएम सिंह को विश्वविद्यालय की ओर से विशिष्ट पुरातन छात्र सम्मान से नवाजा भी गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned