पिता सूर्य अपने पुत्र की राशि में प्रवेश कर रहे है

Bhalender Malhotra

Publish: Jan, 13 2017 10:29:00 (IST)

Guna, Madhya Pradesh, India
पिता सूर्य अपने पुत्र की राशि में प्रवेश कर रहे है

मकर संक्रांति पर हैं इस बार दुर्लभ संयोग, सूर्य दोपहर 1.37 बजे धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंगे



गुना. मकर शंक्रांति पर इस बार विशेष शुभ योग बन रहा है संक्रांति शनिवार को बन रही है। सूर्य और शनि पिता पुत्र है। शनिवार को पिता सूर्य अपने पुत्र की राशि में प्रवेश कर रहा है। इस दिन पिता सूर्य और पुत्र शनि दोनों का पूजन कर खुश करने का शुभ योग है।
सूर्य दोपहर 1.37 बजे धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंग इस दिन शनिदेव के प्रिय बार को पिता सूर्य उनकी राशि में प्रवेश करेंगे। यह दुर्लभ संयोग वर्षों बाद बना है।

ज्योतषि के अनुसार शनि को मकर और कुंभ राशि का स्वामी कहा गया है। ऐसे में शनि के प्रिय शनविार को उनकी राशि  में पिता सूर्य का आना शुभ है। भारतीय पर्वों में केवल मकर संक्रांति ही एक ऐसा पर्व है जिसका निर्धारण सूर्य की गति के अनुसार होता है। इसी कारण मकर संक्रांति प्रतिवर्ष 14 जनवरी को मनाई जाती है। मकर संक्रांति के मौके प्राचीन गुफाओं में से एक गादेर गुफा और मालपुर में मेला का आयोजन किया जाता है। मालपुर में भगवान शंकर के मंदिर के अलावा यहां पर कुंड भी बना है जिसमें लोग डुबकी लगाकर भगवान के दर्शन करते हैं। वहीं स्थानीय लोगों द्वारा मेले का आयोजन किया जाता है। मकर संक्रांति पर गुड और तिल का विशेष महत्व रहता है। इस दिन तिल के लड्डू, खिचड़ी के दान का विशेष महत्व है।


पंडित लखन शास्त्री के अनुसार संक्राति इस बार हाथी पर सबार होकर आ रही है,उपवाहन गधा है। गोलोचन का लेपन करके लाल बस्त्र धारण किए हुए हैं। उन्होंने बताया कि दोपहर 1.37 के बाद पुण्य काल रहेगा। इसमें किया गया दान विशेष फलदायी होगा। गरीबों को गर्म बस्त्र और भोजन का दान भी किया जा सकता है। वहीं मधुसूदनगढ़ के पं. यशवंत तिवारी का कहना है कि सूर्य मकर राशि 14 जनवरी को सुबह 7.37 मिनट पर प्रवेश करेगा। इसी के साथ दो साल बाद फिर से 14 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned