हरियाणा की बसों में मुफ्त सफर के लिए चाहिए केवल सिफारिश

Yuvraj Singh

Publish: Mar, 17 2017 11:24:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
हरियाणा की बसों में मुफ्त सफर के लिए चाहिए केवल सिफारिश

सुविधा हासिल करने को किसी नियम-कानून की जरूरत नहीं, वर्षों से चल रही प्रथा को सीएम खट्टर व उनके अमले ने भी रखा कायम

चंडीगढ़। एक तरफ हरियाणा रोड़वेज वर्षों से घाटे में चल रही है और दूसरी तरफ सरकार अपने चहेतों को बिना किसी नियम कानून के परिवहन की बसों में मुफ्त सफर की सुविधा प्रदान करने में जुटी हुई है। प्रदेश में यह परंपरा वर्तमान सरकार के कार्यकाल में शुरू नहीं हुई है लेकिन पिछली सरकारों के कार्यकाल में शुरू हुई इस परंपरा को समाप्त करने की बजाए वर्तमान सरकार ने इसे आगे बढ़ाने का काम किया है।

कांग्रेस विधायक करण सिंह दलाल ने इस मामले को गत दिवस विधानसभा में उठाया तो सरकार ने एक विस्तृत रिपोर्ट सदन के पटल पर रखी। हरियाणा सरकार द्वारा वर्तमान में पूर्व एवं वर्तमान विधायक, पूर्व एवं मौजूदा सांसद, स्वतंत्रता सेनानी, कलाकार, खिलाड़ी तथा पत्रकारों समेत 26 श्रेणियों के तहत आने वाले लोगों को मुफ्त बस सफर सुविधा प्रदान की गई है। इसके अलावा रक्षा बंधन के अवसर पर महिलाओं तथा उनके बच्चों को एक दिन के मुफ्त बस सफर सुविधा प्रदान की जा रही। उक्त श्रेणियों को यह सुविधा प्रदान करने के लिए समय-समय की सरकारों द्वारा बकायदा नियम एवं शर्तें तैयार करके स्वीकृति प्रदान की गई है।

इसके अलावा कुछ श्रेणियां ऐसी भी हैं जिनके लिए किसी भी सरकार ने न तो कोई नियम पास किया है और न ही कानून बनाया है। परिवहन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2015 में सचिवालय स्टाफ के 557 कर्मचारियों को मुफ्त यात्रा के लिए पहचान पत्र जारी किए गए हैं। सरकार का यह क्रम वर्ष 2016 में भी जारी रहा। जिसके चलते सरकार ने 628 लोगों को पहचान पत्र जारी किए गए। जिन लोगों को सरकार द्वारा यह पहचान पत्र जारी किए गए हैं उनके लिए सिफारिश करने वाला कोई और बल्कि मुख्यमंत्री कार्यालय, मुख्यमंत्री आवास, सीएमओ के अधिकारी, वित्त मंत्री, परिवहन मंत्री भी पीछे नहीं हैं।

हरियाणा के परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार यह स्वीकार तो करते हैं कि परिवहन विभाग के अतिरिक्त सचिवालय स्टाफ को परिवहन विभाग द्वारा पहचान पत्र जारी करने का कोई नियम व निति नहीं है। फिर भी यह पूर्व प्रथा के अनुसार सिविल सचिवालय के शाखा अधिकारी/प्रभारी की सिफारिश तथा मुख्यमंत्री के पूर्व अनुमोदन पर यह सुविधा प्रदान की जा रही है।


कुछ तरह मिलती है हरियाणा में मुफ्त बस सफर की सुविधा

सिफारिशकर्ता    -    वर्ष 2015 में जारी बस पास -   2016 में जारी बस पास
सीएम के सलाहकार     -           003       -             010
मुख्यमंत्री आवास    -        106        -            127
ओएसडी मुख्यमंत्री       -     055      -              073
वित्त मंत्री       -         022      -              024
मीडिया सलाहकार,सीएम    -    009       -             014
मुख्यमंत्री कार्यालय   -        158          -          160
वित्त विभाग        -    027           -         085
परिवहन मंत्री       -     059          -          043
मुख्य सचिव     -           043        -            036
विजिलेंस व अन्य   -         022         -           020
परिवहन शाखा     -       053         -           036

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned