10 लाख की फेंसीड्रिल सीरप हुई सीज, मास्टरमाइंड का सुराग नहीं

Gwalior, Madhya Pradesh, India
   10 लाख की फेंसीड्रिल सीरप हुई सीज, मास्टरमाइंड का सुराग नहीं

मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर हुजरात कोतवाली पुलिस ने एक लोडिंग गाड़ी को पकड़ा है जिसमें पुलिस को 10 लाख कीमत की फेंसिड्रिल सीरप मिली है। पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ा है। जिनसे पूछताक्ष की जा रही है।


ग्वालियर। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर हुजरात कोतवाली पुलिस ने एक लोडिंग गाड़ी को पकड़ा है जिसमें पुलिस को 10 लाख कीमत की फेंसिड्रिल सीरप मिली है। पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ा है। जिनसे पूछताक्ष की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक हुजरात कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की तीन लोग एक लोङ्क्षडग में फेंसिड्रिल सीरप की बड़ी खेप लेकर जा रहे हैं। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए बालाबाई के बाजार से एक लोडिंग गाड़ी को रोका और उसकी तलाशी ली। तलाशी में पुलिस को हजारों बोतले फेंसीड्रिल सीरप की मिली। पुलिस ने ड्राइवर से पूछा की ये माल किसका है और कहां जा रहा है। लेकिन ड्राइवर ने पुलिस को कोई सही जानकारी नहीं दी। न ही किसी प्रकार के कोई कागज दिखाऐ।


जिसके चलते पुलिस गाड़ी और डाइवर व उसके साथ वाले को लेकर कोतवाली आ गई। पुलिस ने फेंसीड्रिल सीरप की बोतलों की खेप की आंकलन किया जिसकी कीमत 10 लाख रुपये आंकी गई है। पुलिस ने बताया की 18000 से ज्यादा फेंसीड्रिल सीरप की बोंतले 180 पेटियों में मिली हैं। मामले में पुलिस ने अफीक अहमद, राजू खान और कमल किशोर नाम के तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है।

सीरप का उपयोग नशे के लिए
आपको बता दें कि फेंसीड्रिल सीरप की उपयोग खांसी के लिए उपयोग किया जाता है। लेकिन इसमें एल्कोहल की मात्रा अधिक होने के कारण कई लोग इसका उपयोग नशे के लिए करने लगे हैं। जिसके चलते फेंसीड्रिल सीरप का अवैध धंधा शुरु हो गया है। ब्लैक में सीरप को सप्लाई किया जाता है।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned