चाकलेट खरीदने निकले भाई-बहन लापता, चार घंटे बाद मिले

avdesh shrivastava

Publish: Apr, 21 2017 01:53:00 (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
चाकलेट खरीदने निकले भाई-बहन लापता, चार घंटे बाद मिले

तीन साल की बहन की उंगली पकड़ कर उसका हमउम्र भाई चाकलेट खरीदने निकलने पर घर का रास्ता भटक गया। दोनों  को लोगों ने भटकते देखा तो डायल 100 को बुला लिया। दोनों को लेकर डायल  100  हजीरा की गली गली घूमी। करीब चार घंटे भटकने के बाद एफआरवी दोनों को थाने लेकर पहुंची तो उनके माता पिता भी वहां मिल गए।

ग्वालियर. तीन साल की बहन की उंगली पकड़ कर उसका हमउम्र भाई चाकलेट खरीदने निकलने पर घर का रास्ता भटक गया। दोनों  को लोगों ने भटकते देखा तो डायल 100 को बुला लिया। दोनों को लेकर डायल  100  हजीरा की गली गली घूमी। करीब चार घंटे भटकने के बाद एफआरवी दोनों को थाने लेकर पहुंची तो उनके माता पिता भी वहां मिल गए।
पुलिस ने बताया इंद्रानगर निवासी विनोद सिंह जादौन का मासूम बेटा नंदू (4) छोटी बहन वंशिता को चाकलेट दिलाने के लिए सुबह घर से निकला था। नंदू और वंशिता घर से दूर चॉकलेट खरीदने दुकान तक तो आ गए। लेकिन वापसी में घर की गली भूल गए। भटकते हुए इंद्रानगर ने निकल बिरला नगर चौराहे पर पहुंच गए। नादान बच्चों को लोगों ने परेशान होते देखा तो उनसे घर का पता पूछा तो दोनों घबरा कर रोने लगे। लोग समझ गए बच्चे भटक गए हैं। उन्हें वापस घर पहुंचाने के लिए डॉयल 100 को बुलाया। एफआरवी के ड्राइवर उदयप्रताप और आरक्षक नंदन भदौरिया ने उन्हें घर ले जाने के लिए गाड़ी में बैठा लिया। लेकिन दोनों घर का रास्ता नहीं बता सके। एफआरवी कर्मी करीब चार घंटे तक दोनों बच्चों को लेकर गलियों में भटकते रहे। उनका घर नहीं मिला तो दोनों को साथ लेकर थाने पहुंचे। यहां विनोद सिंह जादौन और उनकी पत्नी भी बच्चों की तलाश में पुलिस की मदद मांगने आए थे। बच्चों ने माता पिता को देखा तो दौड़कर उनसे चिपट गए। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned