फिल्म इंडस्ट्री में गॉड फादर, तो नहीं करना होगा स्ट्रगल

gwalior
फिल्म इंडस्ट्री में गॉड फादर, तो नहीं करना होगा स्ट्रगल

एक टीवी शो में रोल प्ले करने के बाद आप फिर से उसी चौराहे पर खड़े हो जाते हैं, जहां से आपने अपनी लाइफ की शुरुआत की थी।

ग्वालियरएक टीवी शो में रोल प्ले करने के बाद आप फिर से उसी चौराहे पर खड़े हो जाते हैं, जहां से आपने अपनी लाइफ की शुरुआत की थी। हर एक सफल आर्टिस्ट को एक शो के बाद फिर से ऑडिशन देना होता है और अपनी काबिलियत के बल पर वह नेक्स्ट टीवी शो व फिल्म के लिए सिलेक्ट होता है। मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ। एक के बाद एक मैंने इन चार साल में 400 से अधिक ऑडिशन दिए, जिनमें से अभी तक केवल 22 बार सिलेक्शन हुआ। जल्द ही मैं फिल्म 'कह दो ना और परछाईÓ में नजर आऊंगा। ये दोनों फिल्में जून व सितंबर में रिलीज होने जा रही हैं। चार शहर के नाके में रहने वाले प्रिंस तोमर अभी तक टीवी शो हिटलरगिरी, परवरिश, अफसर बिटिया, ससुराल गेंदा फूल, बड़े अच्छे लगते हैं, सावधान इंडिया आदि में परफॉर्म कर चुके हैं। गत दिवस वह ग्वालियर एक निजी प्रोग्राम में शामिल होने आए थे।

साउथ फिल्म का मिला मौका

फिल्म चट्टान के लिए भी प्रिंस का सिलेक्शन हुआ है, जिसकी शूटिंग इन दिनों बैंगलुरू में चल रही है। इसके अलावा वह जल्द ही साउथ की फिल्म अग्नियुद्ध में एक्टर अर्जुन के साथ नजर आएंगे। यह फिल्म हिंदी व तमिल में एक साथ रिलीज होगी। जल्द ही इसकी शूटिंग शुरू होगी।

पढ़ाई इंजीनियर की, बन गए एक्टर

प्रिंस का बचपन से मन एक्टर बनने का था। उन्होंने आरजेआईटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। इसके बाद मायानगरी की ओर रुख किया। उन्होंने डेढ़ साल तक स्ट्रगल किया। छोटे व शॉर्ट टर्म रोल भी किए, तब जाकर उन्हें आज पहचान मिल सकी। इस दौड़ में परिवार का पूरा सपोर्ट मिला।

कई बार हुआ रिजेक्ट

प्रिंस बताते हैं कि बैकग्राउंड फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ा नहीं रहा। इसका खामियाजा मुझे भुगतना पड़ा। ऑडिशन के दौरान मैंने बेहतर परफॉर्म किया, फिरभी मेरा सिलेक्शन न होकर उन लोगों का हुआ, जो मुझसे काफी पीछे थे। वह इसलिए क्योंकि उनके गॉड फादर थे और मेरे नहीं। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned