दुष्कर्म में फंसने पर पहले की शादी, फिर उतारा मौत के घाट

Gwalior, Madhya Pradesh, India
दुष्कर्म में फंसने पर पहले की शादी, फिर उतारा मौत के घाट
ग्वालियर। 30 साल की बेवा निकहद खां बहोड़ापुर स्थित रामाजी का पुरा  में रहने वाली महिला की उसके पति ने बेरहमी से गला घोंटकर हत्या कर दी व उसका शव कब्रिस्तान में फेंक कर फरार हो गया। निकहद गले में मोटा काला धागा पहनती थी, हत्यारों ने इसी धागे से उसका गला घोंटा है। लावारिस हालत में शव घर से करीब 50 मीटर दूरी पर सुबह लोगों को मिला। पति आमिर खां पर निकहद ने कुछ दिन पहले दुष्कर्म केस दर्ज कराया था। आमिर चाहता था पत्नी राजीनामा करे। लेकिन वह तैयार नहीं थी। हत्या के  बाद  शव को कब्रिस्तान में लाया गया है लेकिन वह  मजबूत कद काठी की थी।  घर से कब्रिस्तान तक उसे उठाकर लाना अकेले व्यक्ति के बूते का नहीं है। 

पुलिस ने बताया कंपू निवासी निकहद बेवा थी। उसके पहले पति का निधन होने के बाद रामाजीकापुरा निवासी आमिर खां को उससे इश्क हो गया।  प्रेमिका पास में रहे इसलिए आमिर ने उसे घर में किराएदार रख लिया। शादी का वादा कर आमिर कई महीनों तक उसके साथ  दुष्कर्म करता रहा। फिर निकाह से मुकर गया तो निकहद ने उस पर दुष्कर्म का केस दर्ज कराया। इस केस में आमिर को जेल जाना पड़ा था। जेल से निकलने के बाद आमिर इस कोशिश में था निकहद उससे राजीनामा करे। इसलिए निकहद से शादी भी की। लेकिन निकहद ने पति से समझौता नहीं किया। बल्कि आमिर के खिलाफ इंदरगंज, जनकगंज, बहोडापुर और महिला थाने में कई शिकायतें कीं। पुलिस का कहना है पति के अलावा निकहद का किसी से बैर नहीं था। सोमवार रात को पड़ोसियों ने उसे घर में देखा था। सुबह उसका शव पड़ा मिला। उसके गाल और नाक पर नाखूनों की खरोंच के निशान थे। फोरेंसिक विशेषज्ञ डा. अखिलेश भार्गव के मुताबिक हत्यारों से निकहद का झगड़ा हुआ है उसे  पीटा गया है वह काबू में नहीं आई तब उसका गला घोंटा है। जान बचाने के लिए निकहद ने संघर्ष भी किया। शव मिलने के बाद पुलिस उसके घर पहुंची तो पति आमिर, सास, ससुर और देवर भाग चुके थे। बहोडापुर टीआई राघवेन्द्र सिंह तोमर का कहना है पत्नी की हत्या में आमिर शामिल है। पत्नी की हत्या क्यों की। शव को ठिकाने लगाने में उसके साथ कौन शामिल रहा है। आमिर के पकडे़ जाने पर पता चलेगा।
एेसे लाया गया शव
पुलिस का कहना है रामाजीकापुरा में आमिर का दो मंजिला मकान है, उसका मेनगेट छोटा है। उसमें बिना झुके नहीं निकला जा सकता। आशंका है हत्या के बाद निकहद को कब्रिस्तान तक लाने में कम से तीन लोग शामिल रहे हैं। हत्यारों ने निकहद की हत्या करने के बाद शव को कुछ देर घर में रखे रहे। जब बस्ती में सन्नाटा हो गया तब उसे कब्रिस्तान में लाकर पटका। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned