कहीं  बूंद-बूंद को तरसे लोग तो कहीं बारिश ने कर दिया बेघर, ये है मौसम की चेतावनी

Gwalior, Madhya Pradesh, India
 कहीं  बूंद-बूंद को तरसे लोग तो कहीं बारिश ने कर दिया बेघर, ये है मौसम की चेतावनी

मानसून पूरे प्रदेश में अलग अलग तरह से पेश आ रहा है। कहीं लोग बारिश को तरस रहे हैं तो कहीं बारिश ने ऐसी नौबत ला दी है कि लोगों को अपने घर छोडऩा पड़ रहे हैं। 

ग्वालियर/शिवपुरी। मानसून प्रदेश में अलग अलग तरह से पेश आ रहा है। कहीं लोग बारिश को तरस रहे हैं तो कहीं बारिश ने ऐसी नौबत ला दी है कि लोगों को अपने घर छोडऩा पड़ रहे हैं। ये हालत लगभग पूरे मध्य प्रदेश के हैं। मालवा और पूर्वी क्षेत्रों में तो मानसून तरह से मेहरबान है। वहीं ग्वालियर चंबल सहित पश्चिमी इलाकों में अभी भी लोग बारिश की एक बूंद के लिए भी तरस रहे हैं।


Image may contain: tree, outdoor, water and nature
हम ग्वालियर अंचल की बात करें तो यहां भी मानसून साबित हो रहा है। अंचल के एक शहर में दो दिनों से इतनी बारिश हो रही है कि लोगों के घर जलमग्न हो गए हैं और बस्तियां टापू बन गई हैं। वहीं ग्वालियर, भिंड, मुरैना, दतिया आदि जिलों के अधिकांश इलाकों में अभी तक मानसून से बरसा भी नहीं हैं।

Image may contain: one or more people, people standing and outdoor

ग्वालियर अंचल के शिवपुरी की बदरवास तहसील में पिछले दो दिनों से झमाझम बारिश हो रही है। बारिश का आलम ये है कि यहां की आदिवासियों बस्तियों में पानी भर गया है। ये पूरी बस्तियां टापू बन गई हैं और पूरी बस्ती में पानी भरा है। यहां के स्थानीय विधायक के घर में भी पानी भर गया है, जिसे मोटरपंप द्वारा निकलवाया जा रहा है।






घरों में भरा पानी, रात गुजारी खुले में
बारिश ने आदिवासी बस्ती में रहने वालों को बेघर कर दिया है। उनके घरों में बारिश का पानी भर गया है। ऐसे में दिन में तो वो बारिश का पानी निकालने में लगे रहते हंैं और रात खुले में बाहर जाकर बिताने को मजबूर हैं।


यहां लोगों को है बारिश का इंतजार
ग्वालियर सहित पूरे चंबल संभाग को अपने हिस्से की बारिश का इंतजार है। अभी तक यहां मानसून सक्रिय नहीं हुआ है,लेकिन मौसम वैज्ञानिकों का दावा है कि 18-19 जुलाई से यहां शक्तिशाली मानसून बनने वाला है। ऐसे में इस पूरे इलाके में मूसलाधार बारिश होने की पूरी संभावना है।





सुबह उमस के बाद बादलों ने डाला डेरा
ग्वालियर शहर की बात करें तो आज सुबह से उमस ने लोगों को काफी परेशान किया। अभी कुछ देर पहले ही बादलों ने आसमान पर अपना डेरा डालना शुरू किया है और अब लोगों को ये आसान लग रहे हैं कि शायद आज बारिश होगी। बता दें कि बादल तो कई बार आते हैं मगर बिन बरसात के लौट जाते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned