नायब तहसीलदार को दिखे बदमाश, फायर किया तो भागे 

Gwalior, Madhya Pradesh, India
नायब तहसीलदार को दिखे बदमाश, फायर किया तो भागे 

नायब तहसीलदार को लूटने की फिराक में थे बदमाश, डोंडरी पुल पर पांच की संख्या थे बदमाश

ग्वालियर/मुरैना. पहाडग़ढ़ के नायब तहसीलदार राकेश कुलश्रेष्ठ को सोमवार की रात धौंधा से लौटते समय डोंडरी पुल पर आधा दर्जन बदमाश मिल गए। प्राइवेट वाहन होने से बदमाशों ने टॉर्च से प्रकाश डाला तो नायब तहसीलदार के साथ मौजूद भाजपा नेता विनोद दुबे ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से फायर किए, तब बदमाश भागे। मंगलवार को सुबह जनपद पंचायत सदस्य गिरजा दुबे ने नायब तहसीलदार को ही डोंडरी पुल पर डायल-की तैनाती व पुलिस पेट्रोलिंग की मांग करते हुए ज्ञापन भी सौंपा है। 

जानकारी के अनुसार नायब तहसीलदार कुलश्रेष्ठ धौंधा गांव में कुएं में गिरने से चाचा-भतीजे की मौत के बाद परिजन से मिलकर लौट रहे थे। रात को साढ़े नौ बजे के बाद उनका वाहन जंगल क्षेत्र में डोंडरी पुल पर निकला तो चार-पांच बदमाश दिखे। बदमाशों ने वाहन पर टॉर्च से कई बार रोशनी फेंकी। जब वाहन रोककर नायब तहसीलदार और साथ में मौजूद भाजपा नेता विनोद दुबे ने टोका तो कोई आवाज नहीं आई।

 खतरे को भांपते हुए भाजपा नेता ने तीन राउंड फायर किए। फायरिंग होते ही बदमाश जंगल की ओर भाग गए। जिस जगह बदमाश मिले उसके आसपास कोई आबादी वाला गांव नहीं है। यहां कई घटनाएं हो चुकी हैं। हालांकि इस संबंध में पुलिस में शिकायत नहीं की गई है।


"बदमाश जंगल में पेड़ों के बीच थे, जो गाड़ी पर टार्च मार रहे थे। पूछने पर बोल नहीं थे जिस पर विनोद दुबे ने अपनी लायसेंसी बंदूक से फायर किए। कोई घटना नहीं हुई इसलिए पुलिस से शिकायत नहीं की है। यहां कन्हार तक पुलिस पेट्रोलिंग की जरूरत है।"
राकेश कुलश्रेष्ठ, नायब तहसीलदार, पहाडग़ढ़

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned