जनसहयोग से कराए गरीब की बेटी के हाथ पीले, आर्शीवाद देने आए सैंकड़ों लोग

Gwalior, Madhya Pradesh, India
  जनसहयोग से कराए गरीब की बेटी के हाथ पीले, आर्शीवाद देने आए सैंकड़ों लोग

कैलारस निवासी उमा कुशवाह के पिता ने उसके लिए वर तो तलाश लिया था, लेकिन हैसियत इतनी नहीं थी कि विवाह पर होने वाला खर्च वहन कर सके।

ग्वालियरमुरैना। कैलारस निवासी उमा कुशवाह के पिता ने उसके लिए वर तो तलाश लिया था, लेकिन हैसियत इतनी नहीं थी कि विवाह पर होने वाला खर्च वहन कर सके। इसी बीच सामाजिक कार्यकर्ता मनोज डण्डौतिया से उनकी मुलाकात हुई तो उन्होंने उमा के विवाह की जिम्मेदारी लेने का वादा किया और सोमवार को धूमधाम से उसके हाथ पीले करा दिए।





उमा कुशवाह के परिवार की माली हालत बहुत खराब है, लेकिन बेटी सयानी हो गई थी, इसलिए उसके विवाह की जिम्मेदारी तो निभानी ही थी। इसके लिए उमा के पिता ने देवास में रणवीर कुशवाह नामक एक युवक से उसकी शादी तय कर दी। इसके बाद वह विवाह के लिए खर्च का इंतजाम नहीं कर पा रहे थे। 



इसी बीच उनकी मुलाकात राजमणि सिंह डण्डौतिया शिक्षा एवं समाज कल्याण समिति के सचिव मनोज डण्डौतिया से हुई। पिछले कुछ सालों से विधवा, दिव्यांग व गरीब कन्याओं के विवाह करा रहे मनोज डण्डौतिया ने उमा की शादी का भी पूरा इंतजाम करने का आश्वासन उसके पिता को दिया। मनोज डण्डौतिया व उनके सहयोगियों ने आपस में खर्च के लिए आवश्यक धनराशि का इंतजाम किया और सोमवार को जीवाजी गंज स्थित टाउनहॉल में उमा व रणवीर की धूमधाम से शादी करा दी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned