यहां 7 परिवारों पर हर वक्त मंडराता है मौत का साया, वजह जानकर आप भी दंग रह जाएंगे

Gwalior, Madhya Pradesh, India
यहां 7 परिवारों पर हर वक्त मंडराता है मौत का साया, वजह जानकर आप भी दंग रह जाएंगे

ढ़ोढर कस्बे के सात परिवार ऐसे हैं, जिनके सिर पर हमेशा मौत का साया मंडराता रहता है। इससे बचने के लिए परिवार कई जगह इसकी शिकायतें और फरियाद कर चुके हैं, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं होती।

जितेन्द्र गोयल @ ग्वालियर/श्योपुर

ढ़ोढर कस्बे के सात परिवार ऐसे हैं, जिनके सिर पर हमेशा मौत का साया मंडराता रहता है। इससे बचने के लिए परिवार कई जगह इसकी शिकायतें और फरियाद कर चुके हैं, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं होती। ऐसे में परिवार का हर शख्स दहशत में रहता है।




जनपद श्योपुर के ढोढर कस्बे में रहने वाले सात लोहपीटा परिवारों के सिर पर मौत मंडरा रही है। ऐसा इसलिए कि उनका आशियाना जिस जगह पर बना है,वहां नजदीक ही विद्युत डीपी लगी है। जिसमें से आए दिन चिंगारियां उठती है। इन स्थितियों के कारण इन परिवार के लोग भयभीत बने रहते है। पीडि़त परिवारों ने यह परेशानी ग्राम पंचायत को बताई तो ग्राम पंचायत ने आवास बनाने के लिए ऐसी विवादित जगह का पट्टा थमा दिया,जहां आवास बनाना तो दूरी बात,वहां जाने पर ही काटकर फेंक देने जैसी धमकियां मिलती है। ऐसे में पीडि़त परिवारों को मौत के साए में ही रहने को विवश होना पड़ रहा है।




पहली किस्त मिली,पर धमकियों के कारण नहीं बना पा रहे आवास
स्वीकृति के बाद आवास निर्माण के लिए प्रशासन की ओर से पहली किस्त के रूप में 40 हजार रुपए की राशि भी मिल चुकी है। मगर ग्राम पंचायत ने आवास बनाने के लिए जो जगह दी है, वह विवादित है,वहां आवास बनाना तो बड़ी दूर की बात,वहां जाने पर ही काट देने जैसी धमकियां मिलती है।


मंडी के पास बना रखा है आशियाना 
ढोढर में सात लोहपीटा परिवार के लोगों ने काफी समय से अपना आशियाना मंडी के पास बना रखा है। उनके अस्थाई आशियाने के पास ही विद्युत डीपी रखी हुई है। जिस पर आए दिन चिंगारियां उठती है।  इनके द्वारा यह स्थितियां ग्राम पंचायत को बताई। तो ग्राम पंचायत ने आवास बनाने के लिए पट्टे भी दे दिए। 

"आवास बनाने के लिए पहली किस्त मिल गई है। मगर जो जगह दी है,वह विवादित है। जहां जाने पर ही काट कर फेंक देने जैसी धमकिया मिल रही है।"
रजला लोहपीटा

"आवास बनाने के लिए ग्राम पंचायत ने हमको विवादित जगह दी है। जहां आवास बनाना संभव नहीं है। हमको आवास बनाने के लिए दूसरी जगह दी जाए।"
भगवंता लोहपीटा

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned