व्रत के साथ ड्यूटी भी जरूरी

Gwalior, Madhya Pradesh, India
व्रत के साथ ड्यूटी भी जरूरी

ये सुहागिनें लाल जोड़े में नहीं, वर्दी में हैं। हालांकि, इन्होंने भी अपने पति की सलामती के लिए करवाचौथ का व्रत रखा है। सुहागिनों की तरह इन्होंने भी हाथ में मेहंदी और पांव में महावर लगाई है। लेकिन, इनके लिए घर के साथ-साथ शहरवासियों की सुरक्षा भी सर्वोपरि है।

ग्वालियर . ये सुहागिनें लाल जोड़े में नहीं, वर्दी में हैं। हालांकि, इन्होंने भी अपने पति की सलामती के लिए करवाचौथ का व्रत रखा है। सुहागिनों की तरह इन्होंने भी हाथ में मेहंदी और पांव में महावर लगाई है। लेकिन, इनके लिए घर के साथ-साथ शहरवासियों की सुरक्षा भी सर्वोपरि है। इसलिए ये करवाचौथ के दिन भी इमानदारी से अपनी ड्यूटी कर रही हैं। पुलिस विभाग में पदस्थ ये महिलाएं निर्जला व्रत रख अपने थानों से लेकर फील्ड तक पहरेदारी कर रही हैं। दिन भर  ड्यूटी पर रहने के बाद पांव में महावर बूटों में छिप गए हैं।
सरकारी विभागों में महिलाएं नदारद
करवा चौथ को देखते हुए सरकारी विभागों में अधिकांश महिलाएं बुधवार को छुट्टी पर रही या ऑफिस आने के बाद जल्द अपने घर चली गईं। पत्रिका टीम ने सरकारी ऑफिसों में महिलाओं की संख्या का पता किया, जिसमें कलेक्ट्रेट में 60 में से 30 महिलाएं ही  सीटों पर मिलीं। वहीं ननि  में भी 50 से 30 महिलाएं ड्यूटी पर नहीं पहुंचीं। ऐसा ही हाल महिला बाल विकास में देखने को मिला।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned