पारिवारिक बंटवारे को लेकर था विवाद, बुलाई गई पंचायत में हुई हत्या

Akanksha Singh

Publish: Jan, 14 2017 01:26:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
पारिवारिक बंटवारे को लेकर था विवाद, बुलाई गई पंचायत में हुई हत्या

इधर परिवारिक बंटवारे को लेकर भी विवाद था। दूसरी तरफ एक ट्रेक्टर को लेकर भी इन भाइयों के बीच तना तनी थी। 

हमीरपुर। हमीरपुर के कुरारा गांव निवासी स्व. कारेलाल प्रजापति के चार पुत्रों आशाराम उर्फ़ मुन्ना, बाबू बग्घा उर्फ़ बाबू राम, राजकिशोर प्रजापति और रामाधीन के बीच कुल ढाई से तीन बीघा ज़मीन है। राजकिशोर पिछली पंचवर्षीय में गांव का प्रधान चुना गया था। जिसके बाद से उसकी आर्थिक स्थिति में तो सुधर आ गया लेकिन अन्य भाइयों की स्थिति पहले जैसी ही रही। इधर परिवारिक बंटवारे को लेकर भी विवाद था। दूसरी तरफ एक ट्रेक्टर को लेकर भी इन भाइयों के बीच तना तनी थी। जिसका समाधान खोजने के लिए आज सभी पूर्व प्रधान भाई राजकिशोर के घर पर जमा थे। जहां हुए विवाद के बाद मुन्ना का छोटे भाई बाबू ने बेरहमी से कत्ल दिया। इस इस सनसनीखेज वारदात से गांव में भी दहशत का माहौल व्याप्त है। मृतक के घर कोहराम मचा हुआ है।

दो दिन पहले भी हुआ था झगड़ा

मृतक मुन्ना के भतीजे दिनेश ने बताया कि उसके पिता रामाधीन और चाचा मुन्ना ने मिलकर ट्रेक्टर ख़रीदा था। गांव निवासी रणधीर सिंह का पाँच बीघा खेत चाचा बाबू बताई में लिए हुए है। दो दिन पूर्व बाबू ने ट्रेक्टर से खेत की जुताई को कहा था। और पैसा बाद में देने को कह रहा था। कल ही बाबू के खेत की जुताई की गई थी। जिसका पैसा उससे माँगा गया था। इसी बात से वह नाराज था। आज भी जब पैसे का तकादा किया गया तो बाबू बिगड़ गया । चूंकि बटवारे को लेकर भी परिवार में तना तनी चल रही थी। इसी के चलते उस वारदात को अंजाम दिया गया है। दिनेश ने इस घटना में बाबू के पुत्र आकाश के भी शामिल होने की बात कही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned