ईसबगोल जोड़ों के दर्द में भी देता है राहत

Divya Singhal

Publish: Feb, 13 2015 06:01:00 (IST)

Health
ईसबगोल जोड़ों के दर्द में भी देता है राहत

रात के खाने के बाद एक गिलास गर्म दूध के साथ एक चम्मच ईसबगोल लेने से लाभ होता है

यूनानी चिकित्सा पद्धति में पाचन संबंधी बीमारियों के लिए ईसबगोल की भूसी और बीजों का प्रयोग किया जाता है। आइए जानते हैं इनके बारे में।


लाभ
1. कब्ज, दस्त, जोड़ों के दर्द, मल में रक्त, पाचनतंत्र संबंधी गड़बड़ी, शरीर में पानी की कमी, मोटापा व डायबिटीज में ईसबगोल काफी फायदेमंद होता है। जोड़ों के दर्द, कब्ज व पाचनतंत्र को दुरूस्त करने के लिए रात के खाने के बाद एक गिलास गर्म दूध के साथ एक चम्मच ईसबगोल की भूसी लेने से लाभ होता है।
2. दस्त के दौरान रक्तस्राव हो या लंबे समय से कब्ज हो तो आधा कप पानी के साथ इसकी भूसी लें।
3. शरबत-ए-बीनार को 20 मिलिलीटर की मात्रा में एक गिलास पानी में मिला लें और एक चम्मच ईसबगोल के बीज साथ में लें। इससे आंतों में होने वाली रूकावट व संक्रमण दूर होता है।
4. अक्सीरे-जिगर को 4 चम्मच पानी में मिला लें। इस मिश्रण के साथ एक चम्मच ईसबगोल के बीज लें। इससे लिवर का संक्रमण व जोड़ों का दर्द दूर होता है।
(नोट: इन दवाओं का प्रयोग डॉक्टरी सलाह से ही करे)


डॉ. सैयद शफीक अहमद नकवी, यूनानी चिकित्सक

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned