2018 से जबलपुर लाइन के ट्रैक पर दौड़ेंगे इलेक्ट्रिक इंजन

Sanket Shrivastava

Publish: Jan, 14 2017 12:17:00 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
 2018 से जबलपुर लाइन के ट्रैक पर दौड़ेंगे इलेक्ट्रिक इंजन

इटारसी से जबलपुर के बीच अगले साल जनवरी से यात्री ट्रेनों में इलेक्ट्रिक इंजन लगने लगेंगे।


राहुल शरण@इटारसी।
इटारसी से जबलपुर के बीच अगले साल जनवरी से यात्री ट्रेनों में इलेक्ट्रिक इंजन लगने लगेंगे। रेलवे ने पिपरिया से इटारसी के बीच विद्युतीकरण का काम पूरा करने की डेड लाइन इस साल दिसंबर तय कर दी है। इलेक्ट्रिफिकेशन का काम कर रही एजेंसी को भी तय डेड लाइन में काम पूरा करने के निर्देश जारी हो गए हैं। रेलवे ने अब तक इटारसी से पिपरिया के बीच का काम लगभग पूरा कर दिया है। अब केवल पिपरिया से जबलपुर के बीच का हिस्सा रह गया है जिसमें काम तेजी से चल रहा है।
 
350 करोड़ रुपए  का है प्रोजेक्ट
रेलवे ने इटारसी से इलाहाबाद तक के सेक्शन का विद्युतीकरण करने का निर्णय कुछ साल पहले लिया था। इस काम के लिए रेलवे ने बजट 2016 में करीब 350 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है। राशि स्वीकृत होने के बाद रेलवे ने जबलपुर जोन में यह काम चालू कराया है। इसमें करीब 134 करोड़ रुपए की राशि वर्ष 2015-16 में स्वीकृत हुई थी।

जबलपुर रूट पर नजर
कुल लंबाई                           241 किलोमीटर
इलेक्ट्रिफिकेशन हुआ                         इटारसी से पिपरिया
इलेक्ट्रिफिकेशन की लंबाई               67 किमी
इलेक्ट्रिफिकेशन बाकी                   पिपरिया से जबलपुर
अभी इतना बाकी - 174 किमी

यह होगा फायदा
- सीधी ट्रेनों से जबलपुर जाने में लगने वाला   समय - 3 घंटे 5 मिनट
-  पैसेंजर ट्रेनों से लगने वाला समय - 6 घंटे
-  बचने वाला समय - करीब 15 से 20 मिनट

अगले साल से लगाएंगे
- रेलवे ने पिपरिया से इटारसी के बीच का काम करीब पूरा कर दिया है। पिपरिया से जबलपुर के बीच भी काम तेजी से चल रहा है। दिसंबर 2017 तक काम खत्म करने के बाद अगले साल जनवरी से हम इलेक्ट्रिक इंजन लगाने की स्थिति में आ जाएंगे।
सुरेंद्र यादव, सीपीआरओ

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned