प्रचीन धरोहर को सहजने कलाकारों ने उठाए फावड़े

sanjeev dubey

Publish: Jul, 17 2017 04:34:00 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
प्रचीन धरोहर को सहजने कलाकारों ने उठाए फावड़े

इप्टा ने लगातार सातवें वर्ष चलाया अभियान, प्राचीन बावड़ी की सफाई की

हरदा. इप्टा के कलाकारों ने सहेजो अपनी धरोहर सहेजो अपनी विरासत के उद्देश्य से लगातार 7 वें वर्ष उड़ा गांव की बाबड़ी की सफाई का जिम्मा उठाया। मंच पर अभिनय का लोहा मनवाने वाले कलाकारों ने हाथ में तगारी और फावड़े लेकर श्रमदान किया। उन्होंन बावड़ी में जमा गंदगी बाहर निकाली। इप्टा की सुनीता जैन ने बताया कि लोगों की जागरुगता के लिए यह पहल जारी रहेगी। विकास के नाम पर धरोहरें समाप्त की जा रही हैं, जो कुछ बची हुई हैं उनमें लोग कचरा डाल रहे हैं। इससे इन धरोहरों के नष्ट होने का खतरा बड़ गया है। इसके लिए स्थानीय स्तर पर आगे आना होगा। जिससे धरोहरों को सहेजने का कार्य स्वप्रेरणा से हो सके। श्रमदान में इरशाद खान, रिजवान खान, शोभा बाजपेयी, नीतू शर्मा, सिम्पी कैथवास,  सुनयना शुक्ला, मनिता इवने, दीपक शर्मा, सुरेन्द्र चौहान, पंकज पटवारे, सागर शुक्ला, सुदर्शन पाराशर, सुदीप काशिव, मनोज विश्वकर्मा, विजेंद्र, संजय तेनगुरिया, दीपेंद्र आदि उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned