रेशम विभाग में 16 करोड़ की अनियमित खरीदी पर उठे सवाल

yashwant janoriya

Publish: Jun, 20 2017 06:50:00 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
रेशम विभाग में 16 करोड़ की अनियमित खरीदी पर उठे सवाल

रेशम के हजारों कैरेट और ट्रे खुले आसमान में पड़े, दो रुपए मिलने वाली वर्मी कंपोस्ट को  5.75 प्र्रतिकिलों में रीवा से खरीदा

होशंगाबाद. रेशम विभाग में बिना निधार्रित प्रक्रिया पूरी किए करीब 16 करोड़ रुपए की खरीदी पर सवाल उठने लगे हैं। लंबे समय से पूरा सामान होशंगाबाद में रेशम केंद्र में पड़ा है। इसका कोई उपयोग नहीं हो रहा है। यदि बारिश के पहले समान को सही तरह से नहीं रखा गया तो लाखों की कीमत में खरीदे गए कैरेट-ट्रे बारिश और फिर धूप के कारण खराब हो जाएंगे।   इतना ही नहीं रेशम विभाग ने 5.75 रुपए प्रति किलो में वर्मीकम्पोस्ट खाद की खरीदी की है। जोकि रीवा से 11 लाख में मंगवाई गई है। इस मामले में सहायक संचालक एके पटेल से चार दिन तक लगातार फोन पर सवाल किए  तो उन्होंने बाहर होने का हवाला देते हुए सवालों से बचने की कोशिश की। पत्रिका की पड़ताल में पता चला कि सहायक संचालक ने एेसी खरीदारी की है जो कि नियमानुसार नहीं की गई। इसमें पूरी वित्तीय प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। इसकों लेकर विभाग में भी सवाल उठ रहे हैं।

जांच कराएंगे
रेशम विभाग द्वारा जो खरीदी गई है, उसकी जानकारी ली जाएगी। अभी तक एेसा मामला सामने नहीं आया है। सहायक संचालक को इस संबंध में बुलाया जाएगा।
अविनाश लवानिया, कलेक्टर

कार्रवाई होगी
इस पूरे मामले की जानकारी अभी मेरे पास नहीं है, लेकिन पूरे मामले का दिखवाया जाएगा। अगर इन मामलों में कोई दोषी पाया जाता है। तो उस पर बिना देरी के कार्रवाई की जाएगी।
अंतरसिंह आर्य, मंत्री, कुटीर ग्राम उद्योग एवं पशुपालन विभाग मप्र

नियमों का पालन किया है
हमने खरीदी में पूरे नियमों का पालन किया है। कुछ लोग परेशान करने के लिए इस तरह की हरकत कर रहे हैं। इसकी जानकारी विभाग को भी है।
एके पटेल, सहायक संचालक रेशम विभाग

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned