तृतीय श्रेणी स्टाफ नर्स को द्वितीय श्रेणी डीपीएचएनओ का चार्ज

amit sharma

Publish: Apr, 21 2017 08:54:00 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
तृतीय श्रेणी स्टाफ नर्स को द्वितीय श्रेणी डीपीएचएनओ का चार्ज

डीपीएचएनओ जिला स्वास्थ्य विभाग में चौथे बड़े अधिकारी की पोस्ट होती है

 होशंगाबाद।    जिला अस्पताल में तृतीय श्रेणी नर्सिंग कर्मचारी को द्वितीय श्रेणी अधिकारी का प्रभार देने को लेकर खींचतान शुरू हो गई है। सीएमएचआे डॉ. दिलीप कटैलिहा के निर्देश पर तृतीय श्रेणी स्टाफ नर्स विद्या ठाकुर को डीपीएचएनओ (जिला पब्लिक हेल्थ नर्स) का चार्ज दिया गया है। सीनियर कर्मचारियों को नजरअंदाज कर जारी किए गए इस आदेश से कर्मचारियों में काफी रोष है। दरअसल, डीपीएचएनओ का पद द्वितीय श्रेणी का है। जिसे इसका प्रभार दिया गया है, वो तृतीय श्रेणी कर्मचारी है। कनिष्ठ कर्मचारी को इस तरह का प्रभार देने से विभाग में कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं।

सीएस ने नर्स को वापस बुलाया
विद्या ठाकुर को चार्ज मिलने के बाद सीएस कार्यालय ने उसे सीएमएचओ कार्यालय से वापस मांग लिया है। सीएमएचओ को लिखे पत्र में सीएस ने कहा है कि विद्या ठाकुर को जिला चिकित्सालय के लिए तुरंत मुक्त किया जाय। सीएस ने हवाला दिया है कि इन दिनों ज्यादातर स्टाफ नर्स शादियों के कारण अवकाश पर हैं। एेसे में अस्पताल में स्टाफ की कमी के कारण मेडिकल सेवाएं लगातार प्रभावित हो रही हैं। विद्या ठाकुर एसबीए ट्रेंड है, एेसे में उसे तुरंत मुक्त कर मैटरनिटी में ड्यूटी के लिए भेजा जाना चाहिए।

बड़ी जिम्मेदारी है डीपीएचएनओ
डीपीएचएनओ जिला स्वास्थ्य विभाग में चौथे बड़े अधिकारी की पोस्ट होती है। इसमें उन्हें शिविर, ट्रेनिंग, रिपोर्टिंग कार्य, नर्सिंग, टीकाकरण मैनेजमेंट जैसे कई कार्य करने होते हैं। लेकिन सीएमएचओ ने सभी नियमों को ताक पर रखकर कनिष्ठ स्टॉफ नर्स की डीपीएचएनओ की पोस्टिंग कर दी।

अभी चार्ज दिया है
स्टाफ नर्स को अभी सिर्फ  चार्ज दिया गया है। इटारसी से कोई भी आकर डीपीएचएनओ का चार्ज लेने को तैयार नहीं है।
डॉ. दिलीप कटैलिहा,  सीएमएचओ होशंगाबाद

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned