सुख पाने के लिए 40 दिनों तक करना होगा सुख सुविधाओं का त्याग

Manoj Kundoo

Publish: Jul, 17 2017 07:50:00 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
सुख पाने के लिए 40 दिनों तक करना होगा सुख सुविधाओं का त्याग

-भगवान श्री झूलेलाल चालीहा व्रत मंगलवार से होगा प्रारंभ।

इटारसी।
पूज्य पंचायत सिंधी समाज एवं झूलण सेवा समिति द्वारा भगवान श्री झूलेलाल चालीहा व्रत 18 जुलाई मंगलवार से प्रारंभ होगा। सिंधी कॉलोनी स्थित श्री झूलेलाल मंदिर में चालीहा के पहले दिन सुबह 8 बजे ज्योति प्रज्जवलन, आरती, भजन-कीर्तन पल्लव व प्रार्थना की जाएगी। जिसमें विश्व कल्याण की कामना एवं अच्छी बारिश के लिए प्रार्थना की जायेगी। चालीहा व्रत के चालीस दिनों तक समाज के लोग कठिन व्रत करते हैं।

जमीन पर सोते हैं व्रत करने वाले

झूलण सेवा समिति के संरक्षक गोपाल सिद्धवानी ने बताया कि चालीहा व्रत बहुत कठिन होते हैं जिसमें 40 दिनों तक सात्विक जीवन जीना होता है। इसमें मांस-मदिरा का सेवन नहीं किया जाता। चालीस दिनों तक दाड़ी, बाल, नाखुन नहीं काटते। व्रत के पूर्ण होने तक जमीन पर ही सोना पड़ता है।

बहराणा साहेब का होगा निर्माण

बच्चे, महिला व पुरूष इस व्रत को करते हैं। व्रत का समापन 27 अगस्त रविवार को होगा। जिसमें बरूच गुजरात के ठक्कुर सांई मनीष लाल द्वारा 31 बहराणा साहेब का निर्माण किया जायेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned