मारुति फैक्ट्री हिंसा मामले में 13 को उम्रकैद  व 5 को 4 वर्ष की सजा

New Delhi, Delhi, India
मारुति फैक्ट्री हिंसा मामले में 13 को उम्रकैद  व 5 को 4 वर्ष की सजा

2012 में मारुति फैक्ट्री हिंसा मामले में गुरुग्राम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने 13 लोगों को आजीवन कारावास की सजा का ऐलान किया है।

नई दिल्ली. 2012 में मारुति फैक्ट्री हिंसा मामले में गुरुग्राम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने 13 लोगों को आजीवन कारावास की सजा का ऐलान किया है। वहीं 4 अन्य लोगों को पांच-पांच साल की जेल का फैसला सुनाया है। कोर्ट ने 10 मार्च को मारुति फैक्ट्री में हुई हिंसा मामले में 31 लोगों को दोषी पाया था। और 14 को जेल की सजा दी थी। जबकि 117 को बरी कर दिया था। 

क्या था मामला
गौरतलब है कि 18 जुलाई 2012 को श्रमिकों के हिंसक प्रदर्शन में मारुति सुजुकी के जनरल मैनेजर अवनीश देव की मौत हो गई थी। वहीं 100 से ज्यादा प्रबंधकों घायल हुए थे। इस मामले में पुलिस ने 148 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया था। 145 श्रमिकों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किए गए थे। जिसमें से 11 अब भी जेल में हैं। जबकि बाकियों को बेल पर रिहा कर दिया गया था। श्रमिकों पर हथियारों से हमला करना, हत्या, हत्या की कोशिश, दंगा करने से समेत कई आपराधिक धाराएं लगाई गई हैं। आरोप है कि श्रमिकों ने कई अधिकारियों, प्रबंधकों और पर्यवेक्षकों पर हमला किया। इसके बाद कंपनी ने कार्रवाई करते हुए 525 श्रमिकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned