मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम एक्ट के तहत ईडी ने जाकिर नाइक के करीबी को किया गिरफ्तार

New Delhi, Delhi, India
मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम एक्ट के तहत ईडी ने जाकिर नाइक के करीबी को किया गिरफ्तार

 प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार रात मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाइक के एक करीबी सहयोगी आमिर गजदर को गिरफ्तार किया। 

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार रात मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाइक के एक करीबी सहयोगी आमिर गजदर को गिरफ्तार किया। उनकी ये गिरफ्तारी उनके खिलाफ दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग के केस में की गई है। जांच एजेंसी के अधिकारी के अनुसार कई फर्म के डायरेक्टर रहते हुए उन पर मनी लॉन्ड्रिंग के कई केस दर्ज है। गजदर को गुरुवार रात साढ़े सात बजे गिरफ्तार किया गया। आगे की कस्टडी के लिए उन्हें शुक्रवार को अदालत में पेश किया जाएगा।

पूछताछ में असहयोग पर हुई गिरफ्तारी
ईडी सूत्रों के अनुसार गजदर को पूछताछ के लिए ईडी के दफ्तर में बुलाया गया था, लेकिन पूछताछ के दौरान वह ठीक तरह से जवाब नहीं दे रहा था। लिहाजा, उसे मनी लांड्रिंग रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार कर लिया गया।

ये हैं आरोप
गजदर पर अपने फर्म के जरिए डॉ. जाकिर नाइक और उसकी संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के करीब 200 करोड़ रुपए के फंड को ठिकाने लगाने का शक है। गजदर कई फर्मों का निदेशक है। मीडिया से जड़ी उसकी एक फर्म जाकिर के चैनल पीस टीवी के लिए कंटेंट मुहैया कराती रही है। 

केन्द्र के निशाने पर है डॉ. जाकिर
ढाके के एक रेस्त्रॉ में हुए बम धमाकों के कथित रूप से डॉ. जाकिर नाइक से प्रभावित होने की खबरों के बाद से डॉ. जाकिर और उनकी संस्था लगातार केन्द्र सरकार के निशाने पर है। उनके खिलाफ एनआईए जांच कर रही है। हालांकि, अब तक कोई चार्जशीट दाखिल नहीं की गई है। अभी वे देश से बाहर हैं। डॉ. जाकिर के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद से आमिर गजदर भी ईडी के निशाने पर था। पिछले वर्ष दिसंबर में ईडी ने जाकिर नाइक के खिलाफ पीएमएलए के तहत मामला दर्ज किया था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned