जाधव को नहीं लौटाया तो पाकिस्तान के करेंगे 16 टुकड़े: स्वामी

New Delhi, Delhi, India
जाधव को नहीं लौटाया तो पाकिस्तान के करेंगे 16 टुकड़े: स्वामी

स्वामी ने कहा कि "राम मंदिर बनाने को लेकर सिर्फ सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना बाकी रह गया है। हम इस साल के अंत तक हर हाल में राम मंदिर बनाकर दिखायेंगे।"उन्होंने कहा कि राम मंदिर बनने से अब कोई नहीं रोक सकता है। 

राहुल चौहान 
नई दिल्ली: भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव के मामले में भाजपा के राज्यसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पाकिस्तान को सख्त चेतावनी दी। स्वामी ने कहा कि अभी पाकिस्तान के दो टुकड़े हुए हैं अगर उसने कुलभूषण जाधव को फांसी दी तो उसके चार टुकड़े कर देने चाहिए। इसके बाद भी पाकिस्तान अपनी गलत हरकतों से बाज नहीं आया तो उसके 16 टुकड़े कर देने चाहिए। स्वामी दिल्ली स्थित कांस्टीट्यूशन क्लब में भाजपा के पूर्व नेता एवं संघ विचारक के एन गोविंदाचार्य के 75 वें जन्मदिन पर आयोजित भारत गौरव अभियान कार्यक्रम में बोल रह थे। 
गौरतलब है कि पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कुलभूषण जाधव को कथित जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुनाई है। भारत का आरोप है कि  पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को ईरान से अगवा करके गलत तरीके से दोषी ठहराकर फांसी की सजा सुनाई है। भारत ने इस मामले में कड़ा रुख अपना रखा है और लगातार पाकिस्तान को सख्त चेतावनी दे रहा है कि अगर उसने जाधव को फांसी दी तो गम्भीर परिणाम भुगतने होंगें। 

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने भी सजा पर उठाए सवाल
अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संस्था एमनेस्टी इंटरनेशनल का भी कहना है कि जाधव को फांसी की सजा देकर पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय कानून की धज्जियां उड़ाईं  हैं। जाधव के मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान को चेतावनी दी थी कि वह जाधव के खिलाफ इतना कड़ा फैसला लेने में सावधानी बरते वरना उसको इसका खामियाजा उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा था कि पाक के इस कदम से दोनों देशों के बाच आपसी रिश्ते खराब हो सकते हैं। बता दें कि पाकिस्तान ने भारतीय राजनयिक को भी जाधव से मुलाकात करने की अभी तक इजाजत नहीं दी है जबकि भारत की ओर से इस मुलाकात के लिए 15 बार अपील की जा चुकी है। 

जाधव मामले में पाकिस्तान ने ईरान से भी मांगी है, जानकारी
पाकिस्तान ने ईरान से भी जाधव की गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी मांगी है। साथ ही वह जाधव के खिलाफ यूएन को डोजियर सौंपने की बात भी कह चुका है। पाकिस्तान ने यह डोजियर जाधव के एक कथित वीडियो जिसमें उसने जाधव को अपने ऊपर लगे आरोपों को अदालत के सामने कबूल करते हुए दिखाया है। वहीं भारत सरकार ने पाक से अधिकारिक तौर पर यह बताने को कहा है कि कुलभूषण जाधव के खिलाफ कौन-सी न्यायिक प्रक्रिया अपनाई गई। उनके खिलाफ किस तरह से केस चला और उन्हें कैसे सजा सुनाई गई है।
भारत ने पाकिस्तान से जाधव के खिलाफ मौजूद सबूतों की एक कॉपी भी पाकिस्तान से मांगी है।   

साल के अंत तक बनाकर दिखायेंगे राम मंदिर: स्वामी 
स्वामी ने कहा कि "राम मंदिर बनाने को लेकर सिर्फ सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना बाकी रह गया है। हम इस साल के अंत तक हर हाल में राम मंदिर बनाकर दिखायेंगे।" स्वामी के इस बयान के बाद कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने उत्साहित होकर जय श्रीराम के नारे लगाए। उन्होंने कहा कि राम मंदिर बनने से अब कोई नहीं रोक सकता है।  

पाकिस्तान पर दबाव बनाने के लिए सरकार को दे चुके हैं, ये सुझाव 
इससे पहले सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पाकिस्तान के साथ उचित बातचीत, राजनयिक स्तर पर चर्चा या अपील के बारे में पहल करने को बेमतलब कहा था। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान जाधव को फांसी की सजा सुनाकर बलूचिस्तान में समस्याएं पैदा करना चाहता है। स्वामी ने कहा कि दिल्ली में बहुत से निर्वासित बलूची रहते हैं, जिन्हें सरकार बनाने के लिए कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान एक आतंकवादी राष्ट्र है, वह अपना रवैया कभी नहीं बदलेगा  और भारत सभ्य तरीके से इस्लामाबाद से नहीं निपट सकता। इनका बस एक ही इलाज है और ये बस एक ही भाषा समझते हैं। भारत सरकार को बलूचिस्तान को अलग देश घोषित करने के मुद्दे को उठाकर पाकिस्तान पर दबाव बनाना चाहिए। 

      

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned