केजरीवाल की पोल खोलने के लिए अनशन जरूरी, CBI को दूंगा सूबत: कपिल मिश्रा

New Delhi, Delhi, India
केजरीवाल की पोल खोलने के लिए अनशन जरूरी, CBI को दूंगा सूबत: कपिल मिश्रा

 दिल्ली के पूर्व जल संसाधन मंत्री कपिल मिश्रा ने अपना अनशन समाप्त कर दिया। कपिल मिश्रा पिछले 6 दिनों से सीएम केजरीवाल के ख़िलाफ अनशन पर थे। कपिल अब मंगलवार को केजरीवाल के खिलाफ सीबीआई को सबूत सौंपेंगे। 

नई दिल्ली: दिल्ली के पूर्व जल संसाधन मंत्री कपिल मिश्रा ने अपना अनशन समाप्त कर दिया। कपिल मिश्रा पिछले 6 दिनों से सीएम केजरीवाल के ख़िलाफ अनशन पर थे। कपिल अब मंगलवार को केजरीवाल के खिलाफ सीबीआई को सबूत सौंपेंगे। अनशन खत्म करने के बाद कपिल मिश्रा ने कहा कि भ्रष्टाचार उजागर करने के लिए अनशन जरूरी था।

सीबीआई में सबूत करेंगे पेश-कपिल मिश्रा
आम आदमी पार्टी सरकार के खिलाफ 10 मई से अनशन कर रहे दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने सोमवार को अनशन खत्म कर दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जेल जाने से नहीं बच सकते। एक बार फिर उन्होंने कुछ सबूतों के साथ मंगलवार को सीबीआई ऑफिस जाने और दिल्ली सरकार की कालिख को उजागर करेंगे। 

केजरीवाल की एक एक पोल खोलेंगे-कपिल मिश्रा
कपिल मिश्रा ने अस्पताल में डॉक्‍टरों के सामने अनशन को खत्‍म करने का ऐलान किया. उन्‍होंने कहा कि वे अब अरविंद केजरीवाल सरकार की एक-एक पोल खोलेंगे।उन्‍होंने कहा कि मंगलवार को वो 11 बजे सीबीआई दफ्तर में  केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे। इसके बाद फिर सीबीडीटी जाकर  मोहल्ला क्लिनिक की पोल खोलूंगा । रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर चंदे की गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए उनसे इस्तीफा मांगा था, इसके बाद वह बेहोश हो गए और उन्हें इलाज के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया था।

टैंकर घोटाले का लगाया है आरोप 
मिश्रा केजरीवाल और उनके सहयोगियों की विदेश यात्राओं के विस्तृत विवरण की मांग करते हुए भूख हड़ताल पर थे। कपिल  मिश्रा का आरोप है कि केजरीवाल ने शीला दीक्षित के मुख्यमंत्रित्वकाल में हुए टैंकर घोटाला मामले की जांच को प्रभावित किया है। उनका आरोप है कि केजरीवाल और उनके दो आदमियों द्वारा टैंकर घोटाला मामले की जांच में लगातार देरी की गई और उसे प्रभावित किया गया। पिछले वर्ष अगस्त में एसीबी ने टैंकर घोटाला मामले में शीला की कथित संलिप्तता के आरोपों में उनसे पूछतांछ की थी और उन्हें 18 लिखित प्रश्नों का एक सेट भी दिया था। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned