OSCAR  NOMINATED  चाइनीज फिल्म में " इंदौर का टैलेंट "

Indore, Madhya Pradesh, India
OSCAR  NOMINATED  चाइनीज फिल्म में

चाइनीज औऱ बॉलीवुड कलाकारों के साथ डॉ आदित्य गोडबोले का भी अहम रोल। उन्होंने  फिल्म में बौद्ध भिक्षु की भूमिका निभाई है।


इंदौर. चाइनीज फिल्म 'दाथांग जुआंग जांग' को अगले वर्ष होने वाले ऑस्कर अवॉर्ड के लिए नामिनेशन मिला है। बेस्ट फॉरेन लैंग्वेज कैटेगरी के लिए फिल्म को नॉमिनेट किया गया है। इस फिल्म में इंदौर के डॉ. आदित्य गोडबोले ने भी भूमिका निभाई है। फिल्म को चाइना फिल्म कार्पोरेशन और भारत के इरोज इंटरनेशनल ने संयुक्त रूप से प्रोड्यूस किया है।
डॉ. आदित्य गोडबोले ने पिछले वर्ष ही बीजिंग से मेडिकल की पढ़ाई कंपलीट की है।

OSCAR AWARD  NOMINATED

पढ़ाई के दौरान उन्होंने चाइनीज भाषा सीखी थी। पत्रिका से बातचीत करते हुए डॉ आदित्य गोडबोले ने बताया चीनी यात्रा के दौरान जब मैंने मैंडरीन सीखी थी तब सोचा भी नहीं था कि इसके चलते मुझे बिग बजट चायनीज फिल्म में काम करने का मौका मिल जाएगा।  उन्होंने बताया, 'फिल्म सातवीं शताब्दी के चीन के थांग डायनेस्टी के राजकुमार की कहानी है जो भारत के नालंदा में बौद्ध धर्म की शिक्षा लेने आया था। इसके लिए वह नालंदा में रहकर संस्कृत और प्राकृत भी सीखता है।' डॉ. गोडबोले ने नालंदा के बौद्ध भिक्षु की भूमिका की है जो चीनी राजकुमार की पढ़ाई में मदद करता है। राजकुमार की मुख्य भूमिका चीन के एक्टर हांगशाओ मिंग ने निभाई है। डायरेक्टर हुओ जियांगकी हैं।

OSCAR AWARD  NOMINATED

सोनू सूद और सुहासिनी मुले भी फिल्म में
गोडबोले ने बताया, 'फिल्म में कई भारतीय कलाकारों ने काम किया है। इनमें थिएटर कलाकार रामगोपाल बजाज ने नालंदा के उस मुख्य भिक्षु की भूमिका की है जो चीनी राजकुमार को शिक्षा देते हैं। सोनू सूद, सुहासिनी मुले सहित कुछ और कलाकार भी फिल्म में हैं। फिल्म में भारत और चीन के प्राचीन रिश्तों के साथ ही ये बात भी स्थापित होती है कि भारत उस वक्त ज्ञान का केंद्र था और विदेशी भारत में पढऩे आते थे। फिल्म इसी साल अप्रैल में रिलीज हुई है।'


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned