जैन दिवाकर कॉलेज : 480 सीटों पर 510 एडमिशन

Narendra Hazare

Publish: Dec, 01 2016 04:39:00 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
जैन दिवाकर कॉलेज : 480 सीटों पर 510 एडमिशन

इंदौर. देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ के परिवार के जैन दिवाकर कॉलेज में बीएससी के कई कोर्स में मंजूर सीटों से ज्यादा एडमिशन दिया जा रहा है। ताजा सत्र में भी 480 सीटों पर 510 एडमिशन दे दिए हैं। यूनिवर्सिटी ने भी इनके एनरोलमेंट नंबर जारी कर दिए। ये छात्र फस्र्ट सेमेस्टर की परीक्षा में भी शामिल हो रहे हैं। कॉलेज के संचालक कुलपति के बेटे अमित धाकड़ हैं।

ऑनलाइन काउंसलिंग में पारदर्शिता के लिए उच्च शिक्षा विभाग ने हर कॉलेज की जानकारी वेबसाइट पर अपलोड की है। इसके अनुसार जैन दिवाकर कॉलेज को बीएससी के 6 कोर्स में 420 सीट ही मंजूर है। पोर्टल पर बीएससी सीड टेक्नोलॉजी-हॉर्टिकल्चर के लिए 60 सीटें ही बताई जा रही हैं। कार्यपरिषद ने इस कोर्स में 60 सीटें बढ़ाने की मंजूरी दी थी। मगर शासन ने सीट बढ़ोतरी रोक दी है।



कॉलेज में एडमिशन नियमानुसार ही हुए हैं। मेरी जानकारी में है कि कॉलेज अपने स्तर पर 10 परसेंट तक सीट बढ़ा सकते हैं। कुछ एडमिशन टीसी या फीस नहीं मिलने पर कैंसल कर देते हैं।
- अमित धाकड़, संचालक, जैन दिवाकर कॉलेज



कॉलेज का नाम सुनते ही बदल गए अधिकारियों के सुर


पहले ये कहा : संबद्धता जारी करने से पहले यूनिवर्सिटी की टीम कॉलेज का निरीक्षण करती है। इसमें कॉलेज के लिए फैकल्टी और छात्रों की संख्या बताना जरूरी है। ज्यादा एडमिशन नहीं दिए जा सकते। अगर किसी कॉलेज ने ऐसी गड़बड़ी की है तो उसकी संबद्धता खत्म हो जाएगी।

बाद में यह बोले
कोई भी कॉलेज जानबूझकर ऐसी लापरवाही नहीं करते। कोर्स की डिमांड पर कॉलेज सीटें बढ़ाने के लिए आवेदन करते हैं। मामले में रिकॉर्ड देखने के बाद ही कोई जानकारी दी जा सकती हैं।
- प्रो. आरएस वर्मा, अतिरिक्त संचालक, उच्च शिक्षा विभाग


पहले ये कहा : कॉलेज मंजूर सीटों की संख्या से एक भी ज्यादा एडमिशन नहीं दे सकता। अगर किसी कॉलेज ने ऐसा किया है तो मैं आज ही रिकॉर्ड बुलवाकर आयुक्त को शिकायत भेजता हूं। शासन कड़ी कार्रवाई करेगा और ऐसे कॉलेज पर ताला ही लग जाएगा।


बाद में यह बोले
परीक्षा में बैठने वाले छात्रों की जानकारी के लिए परीक्षा विभाग है। उसे कॉलेज की मंजूर सीटों की जानकारी लेकर ही फॉर्म स्वीकारने चाहिए थे। हमारा काम कॉलेजों का निरीक्षण कर रिपोर्ट यूनिवर्सिटी को देना है।
- प्रो. सुमंत कटियाल, डीन, कॉलेज डेवलपमेंट काउंसिल


जैन दिवाकर कॉलेज में इस साल सीटें बढ़ गई हैं। शासन ने एडमिशन बढ़ाने के लिए ही कॉलेजों में 10 परसेंट सीटें बढ़ाने के निर्देश दिए थे। इसलिए ज्यादा एडमिशन दिए जाने से कोई दिक्कत नहीं है। मेरे हिसाब से कॉलेज के पास 660 सीटें हैं।

 - प्रो. नरेंद्र धाकड़, कुलपति, डीएवीवी

विषय                                                               सीट    एडमिशन
सीड टेक्नोलॉजी, हार्टिकल्चर                      120    143
बॉटनी, हार्टिकल्टर, सीड टेक्नोलॉजी       120    135
सीएस, मैथ्स, फिजिक्स                               60     69
बायोटेक, केमेस्ट्री व सीएस                         60     68
केमेस्ट्री, मैथ्स, फिजिक्स                           60    44
बॉटनी, केमेस्ट्री, माइक्रोबॉयोलॉजी            60    51

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned