सर्द हवाओं में घुली बंगाली व्यजनों की महक जानिए क्या हैं ये खास ट्रेडिशनल मिठाई

Indore, Madhya Pradesh, India
सर्द हवाओं में घुली बंगाली व्यजनों की महक जानिए क्या हैं ये खास ट्रेडिशनल मिठाई

बंगाली क्लब में तीन दिनी फूड फेस्टिवल 'मुखोरोचकÓ में 100 से ज्यादा ट्रेडिशनल व्यंजन का जायका


इंदौर। चासनी में तर बंगाली मिठाइयों का स्वाद सभी ने चखा है, लेकिन मिठाइयों के साथ बंगाल के ट्रेडिशनल व्यंजनों का लुत्फ उठाने का मौका देने के लिए शुक्रवार से बंगाली क्लब में तीन दिनी फूड फेस्टिवल 'मुखोरोचक' की शुरुआत हुई। पहले ही दिन बड़ी संख्या में शहरवासी परिवार सहित पहुंचे और जमकर चटखारे लगाए।

मुखोरोचक में ट्रेडिशन से भी परिचित होने का मौका मिल रहा है। शुभारंभ तपन भट्टाचार्य ने किया। इस मौके पर अध्यक्ष रंजन दे सरकार, सेक्रेटरी अंबुज दत्ता सहित अन्य सदस्य मौजूद थे। 21 स्टॉल्स पर 100 से ज्यादा वैरायटी के व्यंंजन शामिल किए गए। 



 mp news patrika



रसगुल्ला, चमचम, गुड़ और नारियल से बनी सेरू चाकली के साथ मुगलई पराठे खास है। खजूर और गुड़ के संदेश की भारी मांग रही। स्वाद के शौकीनों ने कुल्हड़ में सर्व किए जाने वाले मीठे दही की भी तारीफ की।

सेक्रेटरी अंबुज दत्ता ने बताया, 'नॉन बंगाली फैमिली भी मुखोरोचक का हिस्सा बन रही हैं। ट्रेडिशनल टच देने के लिए कोलकाता से बाउल बुलाया गया है। बाउल बंगाल की प्राचीन और परंपरागत संगीत प्रथा है जो अब लुप्त होती जा रही है। बाउल में एकतारा की तरह दिखने वाला खामोक बजाया जाता है।'

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned