मंडी में सड़ गए करोड़ों के प्याज, व्यापारी नहीं उठा रहे बोरियां, बदबू से परेशान हो रहे लोग 

Shruti Agrawal

Publish: Jul, 18 2017 03:11:00 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
मंडी में सड़ गए करोड़ों के प्याज, व्यापारी नहीं उठा रहे बोरियां, बदबू से परेशान हो रहे लोग 

सरकार के लिए मुसीबत बना प्याज, किसानों से खरीद लिया लेकिन व्यापारियों ने नहीं उठाया अब तक

इंदौर. प्रदेश सरकार ने किसानों को राहत देने  के लिए आठ रुपए किलो प्याज खरीदे और औने-पौने दाम पर बेच भी दिए। इंदौर जिले में सबसे ज्यादा खरीदी करने  करने वाली लक्ष्मीबाई मंडी में अभी भी सैकड़ों बोरे माल रखा हुआ है जो अब सडऩे लगा। इसको लेकर मंडी सचिव ने सख्ती से इन बोरों को उठाने के दिए। 


onion

आंदोलन का असर ये हुआ कि सरकार ने किसानों से आठ रुपए किलो में प्याज खरीदने की घोषणा कर दी। लंबी-लंबी कतारों में खड़े होकर किसानों ने अपना माल तो बेच दिया जो सरकार के लिए मुसीबत बन गया। माल रखने के बजाए सरकार ने उसे बेचना ही मुनासिब समझा, क्योंकि दो साल पुराना अनुभव ठीक नहीं था। करोड़ों रुपए के प्याज गोदाम में सड़ गए थे और किराया अलग लग गया। 

इंदौर में सबसे ज्यादा प्याज की खरीदी कहीं हुई तो वह लक्ष्मीबाई मंडी में, लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि सरकार के पास एक बोरी भी प्याज नहीं है, सब बेच दिया गया। आखिरी लॉट नागरिक आपूर्ति निगम ने शुक्रवार को बेचा।  करीब 15 ट्रक माल था जिसमें से रविवार तक 11 ट्रक माल रवाना हो गया। सिर्फ 4 ट्रक माल बचा हुआ है जिसमें करीब हजार बोरी पड़ा है। खरीदार कंपनी प्याज का पेस्ट तैयार करने का काम करती है। कई बोरियों में प्याज सड़ चुका है। सड़ा प्याज वहीं फैंके जाने से आस-पास के रहवासी इसकी बदबू से भी परेशान है। 

इसको लेकर मंडी सचिव बीबीएस तोमर ने कल दोपहर में लक्ष्मीबाई मंडी के प्रभारी को निर्देश दिए कि मंडी से प्याज खाली कराएं। एक-दो दिन में सारा माल हटाने का वादा किया गया, लेकिन सड़ा प्याज वहां पर फैंका जा रहा है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned