डॉ रक्षा गोयल:  हेल्दी होगी आपकी डाइट तो कर सकेंगे एग्जाम फाइट  

Indore, Madhya Pradesh, India
डॉ रक्षा गोयल:  हेल्दी होगी आपकी डाइट तो कर सकेंगे एग्जाम फाइट  

पत्रिका ने ‘एग्जाम कॉर्नर’ में डाइटिशियन रक्षा गोयल से जाने कि एग्जाम टाइम में सही डाइट क्या होना चाहिए


इंदौर. एग्जाम की प्रिपरेशन के साथ ही स्टूडेंट्स की रूटीन और डाइट्स पर इफेक्ट पडऩे लगता है। ऐसे में स्टूडेंट्स या तो ज्यादा खाना शुरू कर देते हैं या खाने को इग्नोर कर पढ़ाई पर ही ज्यादा टाइम देने की कोशिश करते हैं। दोनों सिचुएशन स्टूडेंट्स के लिए फायदेमंद नहीं है। एग्जाम ड्यूरेशन में स्टडी के साथ प्रॉपर डाइट भी जरूरी है। पत्रिका ने ‘एग्जाम कॉर्नर’ में डाइटिशियन रक्षा गोयल से जाने कि एग्जाम टाइम में सही डाइट क्या होना चाहिए।

5-6 स्मॉल डाइट लें
रक्षा ने बताया, ‘कई स्टूडेंट्स एग्जाम टाइम में स्ट्रेस के कारण ज्यादा खाने लगते हैं। वे 3-4 हैवी डाइट्स ले लेते हैं। हैवी डाइट्स के कारण कार्बोहाइड्रेट्स और फैट का इनटेक ज्यादा हो जाता है और माइंड स्लो वर्क करने लगता है। इसके विपरीत डाइट इग्नोर करने से माइंड को ग्लूकोज नहीं मिलता और नींद आने लगती है। ऐसे में स्टूडेंट्स के लिए जरूरी है कि 5-6 स्मॉल डाइट लेते हुए पढ़ाई करें।’


स्कीप न करें ब्रेकफॉस्ट 
आमतौर पर देखा गया है कि लेट नाइट  पढ़ाई करने के बाद स्टूडेंट्स ब्रेकफास्ट स्कीप कर देते हैं। ऐसा बिलकुल न करें। रातभर सोने के बाद सुबह उठने तक 8 घंटे  गैप हो जाता है। ऐसे में माइंड को ग्लूकोज की रिक्वॉयरमेंट रहती है। स्टूडेंट्स को हेल्दी और हैवी ब्रेकफास्ट लेना चाहिए। इसमें वेजिटेबल पराठे, इडली, उपमा, ओट्स, स्प्राउट्स, दही या मिल्क प्रोडक्ट्स, फ्रूट्स को शामिल करना चाहिए, जिनमें फाइबर, कार्बोहाइड्रेट्स और प्रोटीन हो। 

मैमोरी बूस्टर हो डाइट
विटामिन बी और सी स्ट्रेस बस्टर का काम करते हैं। विटामिन सी आंवला, लेमन, ऑरेंज, ब्रोकली, फ्रेश फ्रूट और वेजीटेबल में मिल सकता है। वहीं विटामिन बी बाजरा, ज्वार, दलिया, ड्राय फ्रूट्स जैसे अनाज में मिलता है। साथ ही एंटी ऑक्सिटेंड के रूप में ग्रीन टी, अलसी, कलर वेजीटेबल (टमाटर, गाजर, चुकंदर) आदि ले सकते हैं। मैमोरी बूस्टर का काम ओमेगा ३ वाले प्रोडक्ट्स करते हैं। इनमें ड्रॉयफ्रूट्स, मिल्क प्रोड्क्टस, फिश और एग शामिल हैं।

एग्जाम ड्यूरेशन में स्टूडेंट्स जंक फूड बिलकुल न ले और बाहर के फूड को भी अवॉइड करें। जंक फूड माइंड की वर्र्किंग स्लो करते हैं, वहीं बाहर के फूड से इंफेक्शन का खतरा रहता है। एग्जाम ड्यूरेशन में 2-3 दिन तबीयत खराब होना रिस्की हो सकता है।

घर पर किसी भी फूड में अपने पसंद का मसाला डलवाकर उसे टेस्टी बनवा सकते हैं। इसके साथ ही हाइड्रेशन का भी पूरा ध्यान रखें। दिन में 3-4 लीटर पानी जरूरी पीए। दिन में 1-2 कप से ज्यादा चाय या काफी का सेवन न करें। इसके बजाएं नीबू पानी, नारियल पानी, शरबत आदि का सेवन करें।


आज मैथ्स के एक्सपर्ट शेयर करेंगे टिप्स
पत्रिका एग्जाम कॉर्नर में शुक्रवार को सत्यसाईं स्कूल के मैथेमेटिक्स के एक्सपर्ट डॉ. राकेश त्रिपाठी १०वीं और १२वीं के एग्जाम में मैथ्स के पेपर से जुड़ी इन्फॉर्मेशन शेयर करेंगे। डॉ. त्रिपाठी से अपने सवाल पत्रिका इंदौर के फेसबुक पेज https://www.facebook.com/patrikaindore/ पर 2 बजे लाइव वीडियो के दौरान पूछ सकते हैं। मैथ्स से जुड़ी किसी क्वेरी को [email protected] पर मेल या 8818888830 पर वॉट्सएप भी कर भेज सकते हैं।


kanishka gupta

कनिष्का गुप्ता 

स्टूडेंट्स के सवालों के मिले जवाब
 एग्जाम के दिन ब्रेकफास्ट क्या करके जाना चाहिए, ज्यादा हैवी ब्रेक फास्ट से नींद आती है?
एग्जाम के दिन ब्रेकफास्ट जरूर करना चाहिए। बिना ब्रेकफास्ट एग्जाम ड्यूरेशन में भूख लगेगी और आप कॉन्सन्ट्रेट नहीं कर पाएंगी। घर से वेजीटेबल पराठे, इडली, उपमा, ओट्स, स्प्राउट्स, फ्रूट्स जैसी चीजों को दूध या दही के साथ लेकर जाना चाहिए।

yash bhandari

 यश भंडारी

डाइट के अलावा एग्जाम टाइम में क्या ध्यान रखना चाहिए? 
हेल्दी डाइट के साथ रात में का नींद पूरा होना भी बेहद जरूरी है। इसके साथ ही कम से कम 20  मिनट का वर्कआउट होना चाहिए, जिससे एग्जाम स्ट्रेस दूर करने में काफी हद तक हेल्प मिलती है। इसे फोर्सफुली करने के बजाए अपनी  खुशी से करें।

ayushi pandey

आयुषी पांडेय 

लेट नाइट स्टडी के दौरान भूख लगने पर क्या खाना चाहिए?
जब आप एग्जाम के दिनों में लेट नाइट तक स्टडी कर रहे हैं तो अपने साथ में हल्के स्नैक्स भी रखें। इसमें आप फ्रूट्स, नट्स, ड्रॉयफ्रूट्, रोस्टेड चने और वीट, स्प्राउड्स आदि ले सकते हैं। इससे एनर्जी बनी रहेगा। चाय या काफी न लें तो बेहतर है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned