देखिए सिमी आतंकियों के ये नखरें, आरामदायक जेल की कर रहे डिमांड 

Shruti Agrawal

Publish: Jul, 17 2017 04:52:00 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
देखिए सिमी आतंकियों के ये नखरें, आरामदायक जेल की कर रहे डिमांड 

सिमी आतंकियों को कहा रास नहीं आ रही मध्यप्रदेश की जेल, वजन बढ़ गया यहां रहते हुए फिर भी कह रहे वापस गुजरात जेल भेज दो....

इंदौर . बेगुनाहों और मासूमों की जान लेने में जिन आतंकियों के सिर पर एक शिकंज तक नहीं आई थी वे चाहते है कि उन्हेें आरामदायक जेल में रखा जाए। इतना ही नहीं वे मानते है कि उनकी ये डिमांड जायज है और कुबुल भी हो जाएगी। जी हां,  सिमी आतंकी मध्यप्रदेश की जेल में सजा नहीं काटने चाहते हैं। बताया जाता है कि इन आतंकियों ने जेल अधीक्षक के माध्यम से एक आवेदन भेजा है, जिसमें उन्होंने वापस गुजरात की जेल में शिफ्ट करने और बाकी की सजा वहीं काटने के लिए निवेदन किया है। उनका यह आवेदन अभी डीजी जेल के पास विचाराधीन है।

सफदर नागौरी, कमरुद्दीन सहित 11 आतंकियों को इंदौर कोर्ट ने फरवरी में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी उस वक्त यह गुजरात की साबरमती जेल में थे। नियम अनुसार सभी आतंकियों को इंदौर सेंट्रल जेल भेज दिया गया, लेकिन सुरक्षा कारणों को देखते हुए सभी को भोपाल सेंट्रल जेल में शिफ्ट कर दिया गया। जहां हाई सिक्योरिटी सेल में रखा गया है। सूत्रों के अनुसार इन आतंकियों को प्रदेश की जेल में नहीं रहना है। उन्होंने इस बारे में कोर्ट में एक आवेदन दिया था कि उन्हें गुजरात में ही शिफ्ट कर दिया जाए। ताकि बाकी की सजा वहीं  काटें, लेकिन इन आतंकियों का आवेदन कोर्ट ने नामंजूर कर दिया है।

बढ़ गया वजन
जेल सूत्रों के अनुसार इन सिमी आतंकियों को भले ही यहां की जेल में परेशानी आ रही है, लेकिन यहां रहते हुए इनका वजन बढ़ गया है। 2 से 5 किलो तक उनका वजन बढ़ा है। सफदर नागौरी का 7 किलो के लगभग वजन बढऩा बताया जा रहा है। वहीं कमरुद्दीन 4 किलो, मुनरोज 2 और आमिल परवेज का 3 किलो वजन बढऩा बताया जा रहा है।

लगातार हो रही पेशी
सूत्रों के अनुसार इनकी लगातार हो रही पेशी ही रही है, जिससे कोर्ट की करवाई में परेशानी नहीं हो रही है । इसी के चलते आतंकियों के भोपाल जेल में रहने पर कोर्ट को ऐतराज नहीं था। उसके बाद इन सभी 11 आतंकियों  ने जेल अधीक्षक को एक आवेदन भेजा, जिसमें सभी को गुजरात के साबरमती जेल में शिफ्ट करने के लिए कहा है। वे अपनी बाकी सजा गुजरात में ही काटना चाह रहे हैं । सेंट्रल जेल से यह आवेदन डीजी जेल संजय चौधरी के पास विचार के लिए भेजा गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned