जुए में हार गया पति तो दो लोगों ने किया पत्नी का रेप, बेटी को भी दांव पर लगाया

amit mandloi

Publish: Jul, 18 2017 09:39:00 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
जुए में हार गया पति तो दो लोगों ने किया पत्नी का रेप, बेटी को भी दांव पर लगाया

पहले उसने अपनी पत्नी को दांव पर लगाया। फिर हारने के बाद पत्नी को दोस्तों के हवाले कर दिया। दोस्तों ने पहले तो छेड़छाड़ की फिर महिला के साथ बलात्कार किया।

इंदौर. पुलिस जनसुनवाई में सनसनीखेज मामला सामने आया है। जुएं की लत के चलते एक व्यक्ति ने पत्नी को ही दांव पर लगा दिया। कलयुग की इस द्रोपदी को बचाने कोई कृष्ण नहीं आया। पहले उसने अपनी पत्नी को दांव पर लगाया। फिर हारने के बाद पत्नी को दोस्तों के हवाले कर दिया। दोस्तों ने पहले तो छेड़छाड़ की फिर महिला के साथ बलात्कार किया।
महिला ने पति के सामने कई बार खुद को बचाने की गुहार लगाईं। लेकिन पति ने खुद उसे दोस्तों के हवाले कर दिया। हद तो तब हुई जब दोस्तों की नियत महिला की बच्ची पर भी पड़ गई। इसके बाद महिला ने घर से भागने की भी कोशिश की। पति ने दोस्तों के साथ उसे ढ़ूढा और गलत काम के लिए धमकाना शुरु कर दिया। यह धमकी दी कि यदि वह नहीं मानी तो उसकी ना का परिणाम उसकी तीन बेटियों को झेलना होगा।

पत्नी को ही दाव पर लगा दिया
बेटमा निवासी महिला ने मंगलवार को डीआईजी ऑफिस में जनसुनवाई में पति पर गंभीर आरोप लगाए। महिला के मुताबिक वो राऊ में रहते थे। बाद में काम की तलाश में वो बेटमा आए और यही पर पति व तीन बेटियों के साथ रहने लगी। कुछ समय से पति को जुएं की लत लग गई। इसी के चलते महिला के जेवर, घर के बर्तन व अन्य सामान वो जुएं में दाव पर लगाकर गंवा चुका है। इसके बाद भी उसने जुआं खेलना बंद नहीं किया। पत्नी ने कई बार समझाने की कोशिश की लेकिन वो नहीं माना। जुआं खेलने के लिए जब पति के पास कुछ नहीं बचा तो एक दिन उसने जुआं खेलने में पत्नी को ही दाव पर लगा दिया। महाभारत की कहानी एक बार फिर दोहराई गई। युधिष्टर की तरह वह भी अपनी द्रोपदी को जुएं में हार बैठा। कलयुग में द्रोपदी को बचाने कोई कृष्ण नहीं आया बल्कि पति ने खुद उसे दोस्तों के सामने एक सामान की तरह परोस दिया।

महिला की बड़ी बेटी से हरकत की 
महिला का आरोप है कि जुएं में जीत हासिल करने वाले धनश्याम, नौशाद शेख ने रुपए की मांग को लेकर दबाव बनाना शुरू किया। वो आए दिन घर आते और महिला से गलत काम करने की धमकी देते। पति को शिकायत करने के बाद भी उसने कोई मदद नहीं की। महिला का आरोप है कि 13 अक्टूबर 2016 को दोनो उसके घर पहुंचे। बच्चों को घर से निकालने के बाद उन्होंने महिला के साथ बलात्कार किया। इसके बाद वो महिला की बड़ी बेटी से हरकत की बात कहने लगे। घबराई महिला वहां से अपने मायके चली गई। माता-पिता की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी तो वहां से भी उन्हें जाना पड़ा। इसके बाद वो पीथमपुर में छिपकर रह रहे थे। महिला के पीथमपुर में रहने की जानकारी पर आरोपित यहां भी आ गए महिला को बेचकर या महिला व बड़ी बेटी से गलत काम करवा रुपए वसूलने की बात कहने लगे। इसके बाद यहां से भी महिला का जान बचाकर भागना पड़ा। 

पति के साथ नहीं रहना चाहती
पति पर जुए में हारने का आरोप लगाने वाली महिला अपने बयान में आरोपित पर केस दर्ज कराने से मना करती रही। उसने पुलिस से कहा, मेरा पति से बस तलाक करवा दो। महिला अब पति के साथ नहीं रहना चाहती है। पति के दो दोस्त उसके साथ ज्यादती कर चुके हैं। अब उनकी नजर बड़ी बेटी पर है।  महिला ने बयान में ज्यादती का केस दर्ज कराने से इनकार कर दिया। उसका कहना था, वो पति के साथ नहीं रहना चाहती। उसका तलाक करा दिया जाए। पति से भरण पोषण का उसका केस कोर्ट में चल रहा है।

महिला से मिलने की कोशिश न करे
महिला की इच्छा को देखते हुए पति को कहा है, वो महिला से मिलने की कोशिश न करे। पत्नी व बच्चियों के लिए हर महीने तीन हजार रुपए दे, जब तक उसके केस का फैसला नहीं आता। हर महीने की पांच तारीख को ये रुपए थाने आकर उसे देने होंगे। बयान के दौरान ही जानकारी मिली, महिला की गुमशुदगी रिपोर्ट पति दर्ज करा चुका है। पुलिस ने उस मामले में भी महिला के बयान लिए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned