college admission- हर स्टूडेंट लेना चाहता यह सब्जेक्ट, कम पड़ गई हैं सीटें, जानिए क्या है वजह

deepak deewan

Publish: Jul, 14 2017 02:56:00 (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
college admission- हर स्टूडेंट लेना चाहता यह सब्जेक्ट, कम पड़ गई हैं सीटें, जानिए क्या है वजह

यूजी की सेकंड लिस्ट जारी,  बीकॉम की है जबर्दस्त डिमांड  

जबलपुर। बीकाम के प्रति ऐसा क्रेज पहले कभी नहीं देखा गया था। ऐसा लग रहा है मानो हर स्टूडेंट अब कामर्स की ही पढ़ाई करना चाहता है। डिग्री कॉलेजों में दाखिले के लिए गुरुवार को जब दूसरी लिस्ट जारी हुई तो यह तथ्य सामने आया। जारी हुई लिस्ट में सबसे ज्यादा रुझान कॉमर्स में नजर आया। इसी के साथ बीएससी पीसीएम के लिए भी स्टूडेंट्स रुचि दिखा रहे हैं। 


कॉमर्स में सीटें कम
सभी कॉलेजों में कॉमर्स की सीटें लिमिटेड हैं, लेकिन कॉमर्स लेने वालों की संख्या अधिक है। एेसे में मेरिट सिस्टम की वजह से बहुतों को कॉमर्स नहीं मिल पाया। दूसरी लिस्ट में बीए में बहुत सी सीटें भरी जा रही हैं। मानकुंवर बाई कॉलेज की एडमिशन प्रभारी  डॉ. उषा कैली के मुताबिक उन स्टूडेंट्स को भी अब मजबूरन बीए लेना पड़ रहा है जो कि कॉमर्स की चाह रख रहे थे। पहले चरण में कॉमर्स न मिलने के कारण उन्होंने दूसरे चरण में बीए लिया। दूसरे राउंड की काउंसलिंग में बीकॉम के 39 अलॉटमेंट आए, वहीं बीए में 200 अलॉटमेंट आए।   


बीएससी में कम्प्यूटर साइंस
होम साइंस कॉलेज की एडमिशन प्रभारी डॉ. गीता शुक्ला ने बताया कि बीएससी में बहुत सारे सब्जेक्ट हैं, लेकिन स्टूडेंट्स कम्प्यूटर साइंस और पीसीएस सबसे अधिक पसंद कर रहे हैं। पीसीएम में 85 अलॉटमेंट आए हैं, वहीं कम्प्यूटर साइंस में केवल 12 आए हैं। सीटें लिमिटेड हैं और सीट के दावेदार अधिक। गौरतलब है कि 12 जुलाई को जारी होने वाली लिस्ट एक दिन बाद जारी हुई। इस वजह से बहुत कम स्टूडेंट्स ही एडमिशन की आगे की प्रोसेज का हिस्सा बन पाए। टीचर्स के मुताबिक शुक्रवार से ही दूसरे चरण के एडमिशन की प्रक्रिया सुचारू चल पाएगी। स्टूडेंट्स को ऑनलाइन फीस जमा करनी होगी। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned