घने कोहरे का असर, हर साल सैकड़ों ट्रेनें रद्द कर देता है रेलवे

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
  घने कोहरे का असर, हर साल सैकड़ों ट्रेनें रद्द कर देता है रेलवे

रेलवे हर साल ठंड में भारी कोहरे के कारण सैकड़ों टे्रनें रद्द कर देता है। पिछले वर्ष भी टे्रनें एक से दो महीने के लिए रद्द कीं थीं।

जबलपुर। बढ़ती ठंड के साथ उत्तर भारत में छा रहे घने कोहरे ने मानो ट्रेनों की रफ्तार रोकने पहरे बैठा दिए हो। हालात यह हैं कि टे्रनें तय समय से आठ घंटे देर से चल रही हैं। गुरुवार को भी यात्री परेशान होते रहे। अधिकतर टे्रनें घंटों देर से पहुंचीं।

रद्द नहीं होंगी ट्रेनें 
रेलवे हर साल ठंड में भारी कोहरे के कारण सैकड़ों टे्रनें रद्द कर देता है। पिछले वर्ष भी टे्रनें एक से दो महीने के लिए रद्द कीं थीं। नई दिल्ली से आने वाली श्रीधाम एक्सप्रेस के घंटों देर से आने के कारण शाम को जाने वाली श्रीधाम एक्सप्रेस को री-शेड्यूल कर रात 8 बजे रवाना किया गया।

ये चल रहीं देरी से
-12191 श्रीधाम 14 घंटे देर से चल रही है।
                        
-12190 महाकोशल 10 घंटे, 12122 संपर्क क्रांति 8 घंटे देर से चल रही  है।
                   
-22182 गोंडवाना 3.35 घंटे देर से आई।
                        
अन्य ट्रेने भी घंटों देर से चल रही 
है।

ये हुईं लेट
टे्रन कितनी लेट
श्रीधाम 7.10 घंटे
संघमित्रा 8 घंटे
महाकोशल 8 घंटे
पुणे सु.फास्ट 7.50 घंटे
चित्रकूट 4.45 घंटे
जनता 4.30 घंटे
मुंबई मेल 4 घंटे
पवन 4.45 घंटे


गुरुवार को कई टे्रनें घंटों देर से चलीं। इनमें 11448 हावड़ा-जबलपुर शक्तिपुंज 1.45 घंटे, 12182 अजमेर-जबलपुर दयोदय 1.35 घंटे, 12142 पाटलीपुत्र-एलटीटी सुपरफास्ट 1.30 घंटे, 11094 वाराणसी-मुंबई महानगरी 1.15 घंटे, 15018 गोरखपुर-एलटीटी काशी भी 4.30 घंटे देर से पहुंची।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned